मुख्यमंत्री आज जशपुर-सरगुजा के दौरे पर

मुख्यमंत्री आज जशपुर-सरगुजा के दौरे पर : दोनों जिलों को देंगे 1955 करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्यों की सौगात
ईब नदी पर निर्मित पुल का भी करेंगे लोकार्पण

रायपुर 04 जनवरी 2018 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह कल 5 जनवरी को जशपुर और  और सरगुजा जिलों का दौरा करेंगे। वे दोनों जिलों की जनता को राज्य शासन की विभिन्न विभागों की ओर से लगभग एक हजार 955 करोड़ रूपए के विभिन्न निर्माण कार्यों की सौगात देंगे। डॉ. सिंह इनमें से जशपुर जिले में 1076 करोड़ और सरगुजा जिले में 879 करोड़ के निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास करेंगे। मुख्यमंत्री के हाथों लोकार्पित होने वाले निर्माण कार्यों में जशपुर जिले के ग्राम खारीबहार (विकासखण्ड-फरसाबहार) में ईब नदी पर पांच करोड़ 19 लाख रूपए की लागत से निर्मित 270 मीटर लम्बा पुल भी शामिल है।
डॉ. सिंह निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार राजधानी रायपुर से सवेरे 10.45 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होकर 12 बजे जशपुर जिले के फरसाबहार विकासखण्ड के ग्राम खारीबहार पहुंचेंगे और वहां ईब नदी पर नव-निर्मित पुल सहित विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे। डॉ. सिंह दोपहर 2.20 बजे अम्बिकापुर (सरगुजा) पहुंचेंगे और वहां जिले के विकास के लिए लगभग 878 करोड़ 69 लाख रूपए की लागत के कार्यों का भूमिपूजन, शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। डॉ. सिंह इनमें से वहां 731 करोड़ 50 लाख रूपए लागत से बनने वाले अम्बिकापुर- पत्थलगांव मार्ग और अम्बिकापुर में 97 करोड़ 57 लाख रूपए की लागत से बनने वाली 10.81 किलोमीटर रिंग रोड का भूमिपूजन और लगभग 13 करोड़ 17 लाख रूपए लागत के कार्यो का लोकार्पण करेंगे। मुख्यमंत्री कार्यक्रम में विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के कुल 12 हजार 630 हितग्राहियों को 21 करोड़ 6 लाख रूपए की अनुदान राशि के चेक और सामग्री का वितरण करेंगे। मुख्यमंत्री शाम 4.45 बजे रायपुर लौट आएंगे।

हिन्दी

टिप्पणियाँ

जनता की एकजुटता से ही सरगुजा हुआ नक्सल आतंक से मुक्त: डॉ. रमन सिंह
मुख्यमंत्री शामिल हुए हितग्राही सम्मेलन में

जनता को मिली 878 करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्यों की सौगात

विभिन्न योजनाओं में 12 हजार से ज्यादा हितग्राहियों को 21.06 करोड़ की
सामग्री और अनुदान राशि के चेक वितरित

अम्बिकापुर / रायपुर, 05 जनवरी 2018 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि जनता की जागरूकता, एकजुटता और नागरिक तथा पुलिस प्रशासन की सजगता की वजह से ही छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले को नक्सल हिंसा और आतंक से मुक्ति मिली। उन्होंने कहा कि शासन की विभिन्न योजनाओं का जिले में अच्छा असर देखा जा रहा है। लोगों को योजनाओं का लाभ मिलने से अब उनके जीवन में भी बदलाव आ रहा है। इस जिले में हाल के वर्षों में कई ऐसे बेहतरीन कार्य हुए हैं, जिनसे पूरे देश में छत्तीसगढ़ का गौरव बढ़ा है। मुख्यमंत्री आज अम्बिकापुर में आयोजित हितग्राही सम्मेलन और विभिन्न निर्माण कार्यों के लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।
    उन्होंने कहा-स्वच्छ भारत मिशन में जिला मुख्यालय अम्बिकापुर के महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा किए जा रहे कार्य आज पूरे देश के लिए मॉडल बन गए हैं। इतना ही नहीं, बल्कि यह छत्तीसगढ़ का पहला जिला है, जो स्वच्छ भारत मिशन के तहत खुले में शौचमुक्त (ओडीएफ) जिला घोषित हो चुका है। उन्होंने इस अवसर पर अम्बिकापुर में ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण के लिए 12 करोड़ रूपए मंजूर करने की घोषणा की। डॉ. सिंह ने कहा-आज अम्बिकापुर में 97 करोड़ 57 लाख रूपए की लागत से बनने वाले लगभग 11 किलोमीटर के रिंग रोड और अम्बिकापुर-पत्थलगांव करीब 80 किलोमीटर सड़क उन्नयन के लिए 731 करोड़ 50 लाख रूपए के निर्माण कार्यों का भी भूमिपूजन और शिलान्यास हुआ है। आज के कार्यक्रम में एक दिन में 878 करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन अपने आप में एक बड़ा कीर्तिमान है, जो इस जिले की जनता के सहयोग से ही संभव हो पाया है। डॉ. सिंह ने इस अवसर पर सरकार की विभिन्न हितग्राहीमूलक योजनाओं के तहत 12 हजार से ज्यादा हितग्राहियों को 21 करोड़ 06 लाख रूपए की अनुदान सामग्री और स्वीकृत राशि के चेक आदि का वितरण किया।
    मुख्यमंत्री ने कहा-अम्बिकापुर में रिंग रोड के निर्माण से जहां यातायात सुगम और सुरक्षित होगा, वहीं यह रिंग रोड शहर के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि भारत नेट परियोजना के तहत छत्तीसगढ़ की दस हजार से ज्यादा ग्राम पंचायतों को इंटरनेट से जोड़ा जाएगा, जिससे हमारे पंच-सरपंच गांव में बैठकर ही मंत्रालय से सीधा संवाद कर सकेंगे। उन्होंने स्काई योजना के तहत 50 लाख स्मार्ट फोन वितरण की तैयारी के बारे में भी बताया। डॉ. सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश में सड़क, बिजली और संचार नेटवर्क का विकास और विस्तार तेजी से किया जा रहा है। कार्यक्रम में गृह, जेल और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री रामसेवक पैकरा, लोक निर्माण, आवास और पर्यावरण मंत्री श्री राजेश मूणत और विधानसभा के नेताप्रतिपक्ष श्री टी.एस. सिंहदेव ने भी जनता को सम्बोधित किया। श्री सिंहदेव ने अम्बिकापुर रिंग रोड की स्वीकृति मिलने और शिलान्यास के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया।
    जिला कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। सम्मेलन में श्रम, खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री भईयालाल राजवाड़े, लुण्ड्रा के विधायक श्री चिंतामणि महाराज, सीतापुर के विधायक श्री अमरजीत भगत, अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती फुलेश्वरी सिंह, राज्य सहकारी बैंक के संचालक मंडल के सदस्य श्री अखिलेश सोनी, राज्य अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य श्री प्रबोध मिंज, राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग के सदस्य श्री रामकिशुन सिंह और विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारी और अनेक वरिष्ठ जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।