विश्व विरासत दिवस 2018

राज्यपाल श्री बलरामजी दास टंडन ने विश्व विरासत दिवस पर देश-प्रदेश के ऐतिहासिक धरोहरों को सदैव संरक्षण प्रदान करने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि विश्व विरासत दिवस, हमारे प्राचीन और पुरातात्विक धरोहरों के संरक्षण के प्रति जनता में जागरूकता लाने के लिए मनाया जाता है।

श्री टंडन ने धरोहरों के संरक्षण की अपील करते हुए कहा है कि पुरातात्विक एवं ऐतिहासिक धरोहर इमारतें, साहित्य आदि पूरे राष्ट्र और समाज की पूंजी होती है। हमें इन्हें संरक्षित करने के हरसंभव प्रयास करने चाहिए।

हमें नई पीढ़ी विशेषकर बच्चों को इसकी जानकारी देना चाहिए ताकि वे इनका महत्व समझ सकें और इसे संजोकर रख सकें।

हिन्दी