रमन के गोठ के जरिए पानी बचाने का संदेश: प्रबुद्धजनों ने की सराहना

रायपुर, 10 अप्रैल 2016 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज रमन के गोठ के जरिए लोगों को पानी बचाने का संदेश दिया है। उन्होंने राज्य में भू-जल स्तर में आ रही गिरावट के प्रति चिंता जाहिर करते हुए वाटर हार्वेस्टिंग के माध्यम से पानी बचाने के लिए लोगों से अपील भी की है। उनके इस संदेश की प्रदेश के प्रबुद्धजनों ने काफी सराहना की है। इस संबंध में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए वरिष्ठ साहित्कार डॉ. परदेशी राम वर्मा ने कहा कि रमन के गोठ की लोक प्रियता जनहित मुद्दों को स्पर्श करने की विशेषता के कारण लोकप्रियता की ओर अग्रसर है। मुख्यमंत्री ने अपने इस रेडियो कार्यक्रम के माध्यम से पानी बचाने का जो प्रयास किया है, वह सराहनीय है। उनके इस संदेश से पानी की महत्ता और उसे बचाने के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि 14 अप्रैल को देश के संविधान निर्माता डॉ.भीम राव अंबेडकर का जन्म दिवस है। रमन के गोठ की आज की कड़ी में डॉ. सिंह नेे डॉ. अम्बेडकर के जन्म दिवस की महत्ता को रेखांकित करते हुए शिक्षा के क्षेत्र में उनके योगदान और महत्वपूर्ण कार्यों के बारे में बताया, जो अत्यंत प्रसंशनीय है। शिक्षा, स्वास्थ्य, जल संरक्षण के लिए मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए सलाह भी लोगों के लिए बहुत उपयोगी है।
रायपुर के वरिष्ठ कवि डॉ. सुरेन्द्र दुबे ने कहा कि रमन के गोठ छत्तीसगढ़ की संस्कृति और संस्कार का प्रतिबिंब है। यह विकास का संकल्प और कुछ करने का घोषणा पत्र है। जन सामान्य से जुड़कर समस्या का त्वरित निर्णय लेना रमन के गोठ का प्रमुख उद्देश्य है। छत्तीसगढ़ के तीज-त्यौहारों को विशेष रूप से रेखांकित करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह गांव के अंतिम व्यक्ति के हृदय में अपना स्थान बना चुके हैं। महासमुंद जिले के पर्यावरण प्रेमी श्री विश्वनाथ पाणीग्रही ने कहा कि प्रदेश के मुखिया जो स्वयं एक चिकित्सक हैं। उन्होंने गर्मी में बच्चों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए महिलाओं से आग्रह किया, वह उनकी संवेदन शीलता का परिचायक है।

उन्होनें गर्मी के मौसम में आने वाले जल संकट के प्रति भी लोगों को आगाह करते हुए बंूद-बंूद जल बचाने की अपील करते हुए लोगों को जल संरक्षण के प्रति जागरूक किया है। कांकेर जिले में जल संरक्षण और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कार्यरत ग्रीन कमांडो विंग के संचालक श्री वीरेन्द्र कुमार ने भी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा रमन के गोठ के जरिए पानी बचाने के लिए दिए संदेश की काफी सराहना की है।

उन्होंने कहा कि जल संरक्षण की दिशा में मुख्यमंत्री के संदेश से कांकेर में ग्रीन कमांडों विंग द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए चलाए जा रहे अभियान को भी बल मिला है।

हिन्दी