छत्‍तीसगढ़ राज्योत्सव का समापन

छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद छत्तीसगढ़ के लोगों की आशाएं, आकांक्षाएं और उम्मीदें बढ़ी है। उन्होंने नागरिकों से आव्हान किया कि वे राज्य में उपलब्ध व्यापक संभावनाओं का पूरा लाभ उठाएं तथा राज्य की समृध्दि एवं उन्नति में अपनी महती जिम्मेदारी निभाएं। छत्तीसगढ़ के राज्यपाल श्री ई.एस.एल. नरसिम्हन ने रायपुर के साईंस कॉलेज मैदान में आयोजित सात दिवसीय 'राज्योत्सव 2008' का समापन किया। श्री नरसिम्हन ने राज्योत्सव 2008 के आयोजन के लिए बधाई एवं शुभकामनाएं दी। 07 नवम्‍बर 2008 छत्‍तीसगढ़ राज्‍योत्‍सव का आखरी दिन था।

सांस्कृतिक दृष्टि से छत्तीसगढ़ राज्य की एक अलग पहचान है। लोक कला, लोक संगीत, लोक शिल्प और लोक साहित्य के माध्यम से यहां की संस्कृति प्रतिबिम्बित होती है। छत्तीसगढ़ के राज्यपाल ने कहा कि मैंने राज्योत्सव 2008 के सभी दिन यहां आकर सांस्कृतिक कार्यक्रमों को देखा है। उन्होंने इस आयोजन को सफल बनाने वाले छत्तीसगढ़ के सभी कलाकारों सहित देश के विभिन्न क्षेत्र से आए कलाकारों को छत्तीसगढ़ राज्य की जनता की ओर से धन्यवाद दिया।

हिन्दी