कृषि

बागवानी उत्पादन हेतु किरणन सुविधाएं? भोजन में आण्विक? भारत में खाद्य पदार्थों के कितने विकिरण केंद्र हैं?

बागवानी याने फूल फल सब्जी आदि जो हम अपने भोजन में इस्तेमाल करते हैं। सरकार फल सब्जी आदि बागवानी उत्पाद के किरणन / विकिरणीकृत करने की व्यवस्था किसानों के के हित में करती है. 

भोजन में आण्विक / आणुविक किरण? भारत में खाने की वस्तुओं को परमाणु विकिरण देने वाले कितने केंद्र हैं?
क्या आप जानते हैं भोज्य पदार्थों का किरणीयन किया जाता है? चलिए थोड़ा सरल शब्दों में बात करें।
आपने रेडिएशन सुना होगा। यह अणु और परमाणु प्रौद्योगिकी से संबंधित है। अंग्रेजी भाषा का शब्द है रेडिएशन, इससे बना है इर्रेडिएशन जिसका मतलब होता है किरणीयन अर्थात किरनीकृत करना।

कृषि आर्थिक व्‍यवहारों की लोकप्रियता कैसे बढ़ेगी?

पटसन किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सरकार की पहल जूट- आईकेयर 

बेहतर कृषि आर्थिक व्‍यवहारों को लोकप्रिय बनाने/ प्रचलित करने के लिए वर्ष 2015 में लांच की गई पहल जूट के लिए बेहतर खेती और आधुनिक आर्द्रता (जूट-आईकेयर) ने हाल में पायलट आधार पर पश्चिम बंगाल और असम के कुछ ब्‍लॉकों में किसानों के बीच माइक्रो बायल स‍मर्थित नमी अ‍भ्‍यास किया। संशोधित कृषि आर्थिक व्‍यवहार में पैदावार 10-15 प्रतिशत बढ़ाने के लिए क्‍यारीबद्ध तरीके से पटसन की बुआई, खर-पतवार प्रबंधन लागत में कमी के लिए हाथ की जगह मशीनों से खर-पतवार प्रबंधन शामिल हैं।

सरकार को फिक्र है खेती-किसानी-बागवानी और छत्तीसगढ़ के किसानों की: खरीफ फसलों की बोनी पूरी

साल2017 की अच्छी बारिश के बीच खेतिहर अपने काम में लग गए हैं और छत्तीसगढ़ की सरकार भी उनके पीछे खेती की फिक्र में अपनी जरुरी सलाह जारी करना प्रारंभ कर चुकी है. खेती किसानी के लिए सबसे अच्छा उपाय है सरकारी सलाहों पर लगातार ध्यान दिया जाए और अमल किया जाए. आइए देखते डॉक्टर रमन सिंह  की नीतियों के अनुरूप सरकारी तंत्र आपको कृषि सलाह में क्या बता रहे हैं.

वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से खेती किसानी समीक्षा

मानसून आने ही वाला है, सरकार खेती के लिए सतर्क है, अपर मुख्य सचिव श्री अजय सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए जिला कलेक्टरों एवं कृषि विभाग के अधिकारियों की ली बैठक
खाद-बीज के भण्डारण एवं उठाव के दिए निर्देश

खरीफ मौसम 2017 के लिए कार्ययोजना

छत्तीसगढ़ में इस बार के मानसून के दौरान 48 लाख हेक्टेयर में खेती करने का लक्ष्य : खरीफ मौसम 2017 के लिए कार्ययोजना तैयार
रायपुर, 30 मई 2017 - राज्य शासन के कृषि विभाग द्वारा खरीफ मौसम 2017 के लिए व्यापक कार्ययोजना बनाई गई है। इसमें विभिन्न फसलों की बोआई के साथ-साथ खाद-बीज के वितरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

तीन प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर बारह करोड़ बांटे

रबी फसलों के लिए अब तक बारह करोड़ रूपए से ज्यादा ऋण वितरित
रायपुर, 17 नवम्बर 2011 - चालू रबी मौसम में छत्तीसगढ़ के किसानों को खेती के लिए मात्र तीन प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर बारह करोड़ रूपए से अधिक का ऋण उपलब्ध कराया जा चुका है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश की एक हजार 333 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के माध्यम से राज्य के किसान सिर्फ तीन प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर खेती के लिए खाद और बीज के साथ-साथ नगद राशि भी ऋण के रूप में प्राप्त कर रहे हैं।

छत्तीसगढ़ में धान तथा मक्का खरीफ खरीदी

धान और मक्का खरीदी कार्यों के लिए निगरानी दल गठित, सभी जिलों का दौरा करने के निर्देश

निगरानी दलों में शामिल अधिकारियों के मोबाइल फोन नम्बर भी सार्वजनिक किए गए

किसान भवन प्रस्तुतीकरण में कृषि मंत्री चन्द्रशेखर साहू

छत्तीसगढ़ की राजधानी में बनेगा किसान भवन : मुख्यमंत्री ने कार्ययोजना को दी हरी झंडी
लगभग 54 करोड़ की लागत से 52 एकड़ में विकसित होगा  किसान भवन परिसर
जैविक उत्पाद हाट, किसान मॉल और प्रयोगशाला की सुविधा भी उपलब्ध होगी