36 स्टार्टअप युवा बिज़नेस भारत सरकार से प्रमाणित हुए

केन्द्र सरकार ने राज्य के 36 स्टार्टअप उद्यमियों के नवाचारों को किया प्रमाणित, मुख्यमंत्री के हाथों सम्मानित हुए युवा उद्यमी, गूगल अफसर खास तौर पर रायपुर पहुंचे

रायपुर, 03 सितम्बर 2017 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां स्टार्टअप छत्तीसगढ़ योजना के तहत प्रदेश के 36 युवा उद्यमियों को प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित किया। इन उद्यमियों की स्टार्टअप परियोजनाओं को भारत सरकार ने प्रमाणित किया है। ये परियोजनाएं नवाचार पर आधारित है और गूगल फंडेड भी है। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ में सितम्बर 2016 में इस योजना के शुरू होने के बाद प्रदेश सरकार के वाणिज्य और उद्योग विभाग द्वारा सभी 27 जिलों में आयोजित बूट शिविरों में लगभग 3858 युवाओं ने स्टार्टअप के लिए अपना पंजीयन करवाया। इनमें से भारत सरकार के वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने अब तक 36 युवाओं के स्टार्ट-अप को प्रमाणित किया जा चुका है।

आज 36 स्टार्टअप प्रमाणपत्र वितरण समारोह में मुख्यमंत्री ने इन युवाओं को सम्मानित करते हुए उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी। समारोह की अध्यक्षता वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री अमर अग्रवाल ने की।

छत्तीस स्टार्ट-अप सम्मान समारोह में छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक निगम (सी.एस.आई.डी.सी) के अध्यक्ष श्री छगन लाल मूंदड़ा,  प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड, वाणिज्य और उद्योग विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री एन. बैजेन्द्र कुमार,  सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव श्री अमन कुमार सिंह, उद्योग विभाग के सचिव श्री ए.के. भट्ट और ’चिप्स’ के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एलेक्स पॉल मेनन , संचालक वाणिज्य और उद्योग श्रीमती अलरमेल मंगई डी, उद्योग विभाग के संयुक्त सचिव श्री यशवंत कुमार, प्रबंध संचालक सी.आई.डी.सी. श्री सुनील मिश्रा और इंटरनेट सर्च इंजन गुगल के  प्रतिनिधि श्री के.सी. अय्यागिरी सहित राज्य सरकार के अनेक वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

गूगल की उपस्थिति से 36 स्टार्टअप इवेंट, जो सयाजी होटल में आयोजित किया जा रहा है, की गरिमा का अंदाज लगाया जा सकता है. चित्र में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज यहां रायपुर स्टार्टअप छत्तीसगढ़ योजना के तहत इनक्यूबेशन सेंटर का भूमिपूजन करते देखे जा सकते हैं।

हिन्दी