हिमाचल प्रदेश

1365 करोड़ रुपये की महत्वाकांक्षी विश्व बैंक सड़क परियोजना का शुभारम्भ

हिमाचल प्रदेश में सड़क अधोसंरचना के समुचित विकास के लिए 1365 करोड़ रुपये की महत्वाकांक्षी विश्व बैंक परियोजना आरम्भ की जाएगी। मुख्यमंत्री प्रो प्रेम कुमार धूमल 28 मई, 2008 को इस परियोजना का औपचारिक रूप से शुभारम्भ करेंगे। यह जानकारी लोक निर्माण मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह ने आज यहां हिमाचल प्रदेश सड़क परियोजना की समीक्षा हेतु आयोजित उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

हिमाचल प्रदेश में देश के पहले स्वतंत्रता संग्राम की 150वी वर्षगांठ

देशभर के साथ हिमाचल प्रदेश में भी देश के पहले स्वतंत्रता संग्राम की 150वी वर्षगांठ मनाई गई। इस अवसर पर ऐतिहासिक रिज़ मैदान पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में देश की स्वतंत्रता की खातिर अपने प्राण न्यौछावर करने वाले स्वतंत्रता सेनानियों को श्रध्दांजलि अर्पित करने के लिए 150 दीप प्रज्ज्वलित किए गए और सायं 6 बजकर 57 मिनट पर 57 सैकेण्ड का मौन रखा गया।

हिमाचल प्रदेश के लिए आपदा राहत निधि

हिमाचल प्रदेश के लिए 201 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता स्वीकृत

हिमाचल प्रदेश को आपदा राहत निधि के तहत केन्द्र सरकार से लम्बी अवधि उपाय के रूप में 201 करोड़ रुपये की अतिरिक्त केन्द्रीय सहायता स्वीकृत की गई है ताकि प्रदेश में गत वर्ष बाढ़ के कारण हुई क्षति की भरपाई की जा सके। यह जानकारी आज यहां राजस्व मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह ने राजस्व विभाग के अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

'दु:खों की नदी' के नाम से विख्यात स्वां नदी बन गई 'खुशहाल एवं समृद्ध' नदी

हिमाचल प्रदेश ऊना जिले के गगरेट में नाबार्ड द्वारा वित पोषित महत्वाकांक्षी स्वां नदी तटीयकरण चरण दो की आधारशिला मुख्यमंत्री प्रो प्रेम कुमार धूमल ने रखी। 1400 वर्ग कि.मी. कैचमेंट की स्‍वां नदी कुल 85 कि.मी. लंबी है जिसका 65 कि.मी.

शिमला के समीप तारादेवी में प्रदेश का पहला वानर संरक्षण पार्क

हिमाचल प्रदेश सरकार वानरों को प्राकृतिक बसेरा उपलब्ध करवाने के लिए वानर संरक्षण पार्क विकसित करेगी, ताकि उन्हें प्राकृतिक आहार एवं आश्रय मिल सके और किसानों की फसलों को हो रहे नुकसान से बचाया जा सके। यह जानकारी मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने आज यहां शिमला के समीप तारादेवी में प्रदेश के पहले वानर संरक्षण पार्क के उद्धाटन अवसर पर दी, जिसका संचालन राज्य वन विभाग की वन्य प्राणी इकाई द्वारा किया जाएगा।