स्वतंत्रता संग्राम सेनानी

छत्तीसगढ़ मित्र प्रकाशक, सहकारी केन्द्रीय बैंक संस्थापक थे वामन राव लाखे 

आज छत्तीसगढ़ में सहकारिता आंदोलन के प्रवर्तक लाखे जी की पुण्य तिथि : मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय श्री वामन राव लाखे को दी श्रद्धांजलि

राज्य की प्रथम मासिक पत्रिका ‘छत्तीसगढ़ मित्र’ के प्रकाशक और रायपुर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के संस्थापक थे वामन राव लाखे 
रायपुर नगरपालिका के अध्यक्ष भी रहे

समग्र जीवनी स्वतंत्रता सेनानियों की

हमर छत्तीसगढ़ योजना : छत्तीसगढ़ के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की लिखी जाएगी जीवनी : सेनानियों के योगदान को रेखांकित करने राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग की पहल
रायपुर 13 अप्रैल 2017 - छत्तीसगढ़ के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की समग्र जीवनी लिखी जाएगी। छत्तीसगढ़ राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष डॉ. सियाराम साहू की पहल पर आयोग ने इस पर काम शुरू कर दिया है। आयोग ने हाल ही में अंबिकापुर में सरगुजा और सूरजपुर जिले के साहित्यकारों और प्रबुद्धजनों की कार्यशाला-सह-बैठक आयोजित कर स्वतंत्रता सेनानियों के जीवनी लेखन पर गहन विचार-विमर्श किया।

मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय श्री रामलाल चन्द्राकर के घर जाकर संवेदना प्रकट की

रायपुर, 28 जून 2009 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज शाम यहां चौबे कॉलोनी में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, पूर्व विधायक और तत्कालीन अविभाजित मध्यप्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री स्वर्गीय श्री रामलाल चन्द्राकर के निवास पर उनकी धर्मपत्नी श्रीमती सुखवती चन्द्राकर और उनके पुत्रों और पुत्रियों सहित उनके सभी शोक संतप्त परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना प्रदान की। मुख्यमंत्री ने श्री चन्द्राकर के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया।

जंलिया वाला बाग और कूका नामधारी अब मान्‍यता प्राप्‍त

आजादी पर मर मिटने वालों को शहीद का दर्जा | जी हां पूरे 61 बरस लगे इन राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलनों को राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन की मान्‍यता प्राप्‍त करने में । - दो पूर्व स्वतंत्रता आंदोलनों को स्वतंत्रता सैनिक सम्मान पेंशन प्राप्ति के लिए मान्यता - भारत सरकार ने पंजाब के दो स्वतंत्रता पूर्व आंदोलनों, कूका नामधारी आंदोलन 1871 और जंलिया वाला बाग नरसंहार, 1919 को स्वतंत्रता सैनिक सम्मान पेंशन योजना के तहत पेंशन के अनुदान के लिए राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलनों की सूची में जोड़ने हेतु मान्यता दी है.

माधव राव सप्रे सच्चे राष्ट्रवादी चिंतक

रायपुर, 19 जून 2008 – स्वतंत्रता संग्राम सेनानी तथा प्रखर पत्रकार स्वर्गीय श्री माधव राव सप्रे ने पत्रकारिता के माध्यम से देश की आजादी की लड़ाई में अपना बहुमूल्य योगदान दिया और देश सेवा का कार्य किया। वे सच्चे राष्ट्रवादी चिन्तक थे और उनकी लेखनी राष्ट्रभक्ति की भावना से ओतप्रोत होती थी। उनका जीवन हम सब के लिए प्रेरणादायक है।