सूर्य से प्रकाश उर्जा के लिए किसानों का सम्मान

सौर सुजला योजना: मुख्यमंत्री ने छह किसानों को सम्मानित किया

रायपुर 07 मई 2017 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने लोक सुराज अभियान के तहत जिला मुख्यालय राजनांदगांव में सौर सुजला योजना के हितग्राही किसानों को सम्मानित किया और उन्हें बधाई दी। योजना के तहत ग्राम खुर्सीपार के श्री विष्णुदास साहू और किसुन साहू, ग्राम मातेखेड़ा के श्री हेमंत साहू और श्री भूपेन्द्र कुमार कतलाम, ग्राम बिटाल के श्री भरत साहू और ग्राम इंदामरा की श्रीमती राधा बाई को अत्यंत किफायती मूल्य पर तीन हॉर्स पावर के सोलर सिंचाई पम्प दिए गए हैं। सौर ऊर्जा आधारित होने के कारण इन सिंचाई पम्पों में बिजली और डीजल का कोई खर्च नहीं आ रहा है। ये किसान सोलर पम्पों से सिंचाई करके अपने खेतों में धान, मूंग और उड़द की खेती के साथ-साथ साग-सब्जियों की भी पैदावार ले रहे हैं। 
छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि इस योजना में जहां साढ़े तीन लाख रूपए कीमत का अनुसूचित जाति और आदिवासी वर्ग के किसानों को तीन हॉर्स पावर का सिंचाई पम्प मात्र सात हजार रूपए में दिया जा रहा है, वहीं अन्य पिछड़े वर्ग के किसानों को यह सिर्फ बारह हजार रूपए में और सामान्य वर्ग के किसानों को केवल 18 हजार रूपए में देने का प्रावधान किया गया है। इसी कड़ी में पांच हॉर्स पावर का सोलर सिंचाई पम्प जिसकी बाजार में कीमत साढ़े चार लाख रूपए है, वह आदिवासी और अनुसूचित जाति के किसानों को मात्र दस हजार रूपए में, अन्य पिछड़े वर्ग के किसानों को सिर्फ 15 हजार रूपए में और सामान्य वर्ग के किसानों को मात्र 20 हजार रूपए में मंजूर किया  जा रहा है। विद्युत विहीन खेतों में सौर सिंचाई पम्पों को बढ़ावा देना और किसानों को निःशुल्क बारह मासी बिजली उपलब्ध कराना इस योजना का मुख्य उद्देश्य है। 

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने चालू वित्तीय वर्ष 2017-18 में इस योजना के तहत 20 हजार किसानों को सोलर सिंचाई पम्प देने की घोषणा की है। उन्होंने इसके लिए बजट में 554 करोड़ रूपए का प्रावधान किया है।  किसान इस योजना में भू-जल स्तर के अनुसार नलकूप खनन कर उसमें सबमर्सिबल पम्प लगाकर भी पानी ले सकते हैं। सौर पैनलों में बनने वाली बिजली से यह पम्प चलता है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को नदी-नालों के किनारे के गांवों में भी इस योजना का विस्तार करने के निर्देश दिए हैं। योजना की विस्तृत जानकारी के लिए राजधानी रायपुर स्थित छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) के अधिकारियों से वहां के फोन नम्बर 8370009923 अथवा 8370009927 पर सम्पर्क किया जा सकता है। 

हिन्दी