सार्वजनिक वितरण प्रणाली

चांउर वाले बाबा के चावल सहारा

मेरे राशन कार्ड पर भी लगी एक रूपए की मुहर - रायपुर जिले के धरसींवा विकासखण्ड स्थित ग्राम पंचायत मांढर निवासी अंत्योदय अन्न योजना के हितग्राही 70 वर्षीय श्री पुनऊराम ने इस योजना की जानकारी मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हें अब एक रुपए किलो की दर से हर माह 35 किलो चावल मिलेगा। मेरे कार्ड में एक रुपए किलो चावल योजना की मुहर लग गई है। यह कहते हुए उन्होंने उत्साह के साथ अपना राशन कार्ड भी दिखाया। श्री पुनऊराम ने यह भी बताया कि उन्हें राष्ट्रीय वृध्दावस्था पेंशन योजना के तहत हर माह ग्राम पंचायत कार्यालय से तीन सौ रुपए पेंशन भी मिलती है।

आपूर्ति निगम की दस चलित दुकानों का लोकार्पण

रायपुर, - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत आदिवासी बहुत बस्तर संभाग के हाट बाजारों के लिए दस नई चलित दुकानों को हरी झंडी दिखा कर उनका लोकार्पण किया और उन्हें गंतव्य के लिए रवाना किया। मुख्यमंत्री ने इन वाहनों को बस्तर वासियों के लिए राज्य शासन की ओर से नए वर्ष की एक महत्वपूर्ण सौगात बताते हुए सभी लोगों को नए साल की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी। इन चलित दुकानों के संचालन के लिए ये वाहन बस्तर एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम को उपलब्ध कराए गए हैं।

जनभागीदारी एवं कॉल सेन्टर व्यवस्था

सार्वजनिक वितरण प्रणाली में जनभागीदारी कॉल सेन्टर का शुभारंभ

छत्तीसगढ़ में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत राशन दुकानों के काम-काज की निगरानी के लिए जनभागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य से कॉल सेन्टर की स्थापना की जा रही है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह कल 21 जनवरी को सवेरे 10.30 बजे यहां अपने निवास पर खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग से संबंधित जनभागीदारी एवं कॉल सेन्टर व्यवस्था का शुभारंभ करेंगे। छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा आयोजित किए जा रहे इस कार्यक्रम की अध्यक्षता खाद्य राज्य मंत्री श्री सत्यानंद राठिया करेंगे।

अगुस्ता से भी रखी जाएगी राशन दुकानों पर नजर

सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों का अब निरीक्षण 'अगुस्ता' से भी होगा। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेसिंग से प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टरों से बात की। उन्होंने कहा कि वे विभिन्न जिलों में भ्रमण के दौरान हेलीकाप्टर 'अगुस्ता' से किसी भी गांव में अचानक उतर कर वहां की राशन दुकान का भी आकस्मिक निरीक्षण करेंगे।

गरीबों के चावल की कालाबाजारी रोकने कठोर कार्रवाई

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए सभी कलेक्टरों से मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना की तैयारियों की जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिए। डॉ. रमन सिंह ने बस्तर को छोड़कर सभी जिलों के कलेक्टरों से अलग-अलग संवाद के जरिए उन्हें जरूरी दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गरीबों के चावल की कालाबाजारी रोकने के लिए अत्यावश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कठोर कार्रवाई की जाए और कालाबाजारी में लिप्त वाहनों को नियमानुसार तत्काल राजसात किया जाए। डॉ. सिंह ने विशेष रूप से निर्देश दिए कि बी.पी.एल.