सातवीं राज्य स्तरीय स्कूली खेल प्रतियोगिता सरगुजा में सम्‍पन्न

दुर्ग जोन बना चैम्पियन
बालिकाओं के खो-खो 14 वर्ष और शतरंज 17 वर्ष में सरगुजा विजेता
बालिका वर्ग की फुटबॉल 17 वर्ष रायपुर विजेता
बालिका वर्ग कबड्डी 19 वर्ष में विजेता दुर्ग
बालक वर्ग की खो-खो 14 वर्ष बस्तर विजेता
बालक वर्ग की शतरंज 14 वर्ष दुर्ग विजेता
कबड्डी बालक 19 वर्ष में विजेता बिलासपुर

      चार दिन से चल रही सातवीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का समापन आज अम्बिकापुर के शासकीय बहु.उ.मा.विद्यालय परिसर में हुआ। इस खेल प्रतियोगिता में फुटबॉल, खो-खो, शतरंज तथा कबड्डी की प्रतियोगिताएं हुईं। प्रतियोगिता में दुर्ग जोन टीम चैम्पियन रही। बरसते पानी के बीच समापन समारोह सभागृह में संपन्न हुआ।

अम्बिकापुर 28 सितंबर 2007 - स्कूली खेल-कूद प्रतियोगिता में बालक वर्ग की खो-खो 14 वर्ष की प्रतियोगिता में बस्तर की टीम विजेता और जशपुर की टीम उपविजेता रही।
खो-खो बलिका 14 वर्ष की प्रतियोगिता में सरगुजा की टीम विजेता और राजनांदगांव की टीम उपविजेता रही।

बालिका वर्ग की फुटबॉल 17 वर्ष की प्रतियोगिता में रायपुर की टीम विजेता और जशपुर की टीम उपविजेता रही।
कबड्डी बालक 19 वर्ष में विजेता बिलासपुर और उपविजेता बस्तर रहा।
बालिका वर्ग कबड्डी 19 वर्ष में विजेता दुर्ग और उपविजेता सरगुजा रहा।

बालक वर्ग की शतरंज 14 वर्ष की प्रतियोगिता में दुर्ग की टीम विजेता और सरगुजा की टीम उपविजेता रही। बालक वर्ग की शतरंज 14 वर्ष की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये राजनांदगांव से प्रतीक देवांगन दुर्ग से अंकित सिंह, आकाश सत्यदेव तथा आशुतोष यादव, रायपुर से अक्षय खटोर का चयन किया गया।
बालिका वर्ग की शतरंज 14 वर्ष की प्रतियोगिता में जाजंगीर की टीम विजेता और दुर्ग की टीम उपविजेता रही। बालिका वर्ग की शतरंज 14 वर्ष की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये जांजगीर से कुमारी दिव्या जायसवाल, अंकिता सिंह, दुर्ग से नेहा साहू, आस्था सत्यदेव और राजनांदगांव से खुशबू जोशी का चयन किया गया।
बालक वर्ग की शतरंज 17 वर्ष की प्रतियोगिता में जांजगीर की टीम विजेता और बस्तर की टीम उपविजेता रही। बालक वर्ग की शतरंज 17 वर्ष की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये राजनांदगांव से प्रतीक साहू, दुर्ग से विवेक दुबे, पंकज साहू, सरगुजा से शशांक दास और जांजगीर से कुलदीप का चयन किया गया।
बालिका वर्ग की शतरंज 17 वर्ष की प्रतियोगिता में सरगुजा की टीम विजेता और राजनांदगांव की टीम उपविजेता रही। बालिका वर्ग की शतरंज 17 वर्ष की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये राजनांदगांव से पूजा शुक्ला, दुर्ग से सम्यता साहू, रायपुर से लक्ष्मी कुमारी, सरगुजा से स्वप्निल अम्बष्ट, जागृति स्वर्णकार का चयन किया गया।
बालक वर्ग की शतरंज 19 वर्ष की प्रतियोगिता में बिलासपुर की टीम विजेता और दुर्ग की टीम उपविजेता रही। बालक वर्ग की शतरंज 19 वर्ष की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये दुर्ग से अंशुल उत्पल, अनुराग सिंह, मनीष ठाकुर, रायपुर से यामन चन्द्राकर और बिलासपुर से मयंक शुक्ला का चयन किया गया।
बालिका वर्ग की शतरंज 19 वर्ष की प्रतियोगिता में राजनांदगांव की टीम विजेता और दुर्ग की टीम उपविजेता रही। बालिका वर्ग की शतरंज 19 वर्ष की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये जांजगीर से पूजा, राजनांदगांव से रमनदीप, रायपुर से भारती पटेल, बस्तर से आंकाक्षा साहू और दुर्ग से रूचिका सोनी का चयन किया गया।

       समापन समारोह में वरिष्ठ जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक, कलेक्टर डॉ. रोहित यादव, पुलिस अधीक्षक श्री हेमकृष्ण राठौर सहित अन्य प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे। समारोह में हॉलीक्रॉस स्कूल के विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। इस अवसर पर विभिन्न जोनों से आये अधिकारी-कर्मचारी, खिलाड़ी तथा बड़ी संख्या में खेल प्रेमी उपस्थित थे।

Tags

हिन्दी