सरकार अंतर्राष्ट्रीय चिकित्सा पर्यटन को कैसे बढ़ावा दे रही है?

पर्यटन मंत्रालय ने मौसमी पर्यटन से आगे बढ़ कर भारत को पूरे साल भर 365 दिन के गंतव्य के रूप में बढ़ावा देने के लिए और विशिष्ट रूचि वाले पर्यटकों को आकर्षित करने आयुर्वेद सहित मेडिकल और कल्याण वेलनेस पर्यटन को एक आला उत्पाद के रूप में पहचान की।

एक समर्पित संस्थागत ढांचा प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय चिकित्सा और कल्याण पर्यटन बोर्ड का गठन किया गया है जो चिकित्सकीय और कल्याण पर्यटन को बढ़ावा देने केका कार्य करेगी जिसमें आयुर्वेद, योग, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी (आयुष) और भारतीय चिकित्सा पद्धति के किसी भी अन्य प्रारूप का भी ख्याल रखेगी।

"भारत आयुर्वेद के लिए एक गंतव्य" के रूप में भी वैश्विक अविश्वसनीय भारत अभियान के माध्यम से और भारत पर्यटन कार्यालयों द्वारा प्रचारित प्रसारित किया जाता है जो व्यापार मेलों, प्रचारक आयोजनों, सड़कों में प्रदर्शन और सेमिनार में भागीदारी के माध्यम से यह कार्य कराती है.

हिन्दी