संस्कृति

महानाटय जाणता राजा के मंचन में रायपुर के कलाकार

प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम 1857 की 150 वीं वर्षगांठ समारोह पर रायपुर में पांच दिनों तक प्रदर्शित छत्रपति शिवाजी महाराज की जीवनी पर आधारित महानाटय 'जाणता राजा' के मंचन में राजधानी रायपुर के महाराष्ट्र मंडल के कलाकारों ने भी भूमिका निभायी। इनमें अनेक बाल कलाकार भी शामिल थे। संस्कृति मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने आज यहां अपने निवास पर महाराज छत्रपति प्रतिष्ठान पुणे (महाराष्ट्र) की ओर से इस नाटक में भाग लेने वाले इन कलाकारों को प्रमाण-पत्र वितरित किए। ये प्रमाण-पत्र महाराज छत्रपति प्रतिष्ठान पुणे द्वारा दिए गए हैं। श्री अग्रवाल ने इस अवसर पर सभी कलाकारों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

छत्तीसगढ़ सिन्धी साहित्य संस्थान आयोजित कार्यक्रम

संस्कृति मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की 150वीं वर्षगांठ समारोह के अंतर्गत पिछले एक साल तक देशभर में हुए कार्यक्रमों से देशवासियों में राष्ट्रीयता की भावना और मजबूत हुई है। देश को आजाद करने के लिए देशभक्तों द्वारा किए गए त्याग और बलिदानों के इतिहास से जुड़े कार्यक्रमों से नई पीढ़ी के मन में स्वाभिमान, राष्ट्रभक्ति और समाज सेवा का जज्बा पैदा करने में मदद मिली है। श्री अग्रवाल कल देर रात यहां छत्तीसगढ़ सिंधी साहित्य संस्थान द्वारा 1857 के शहीदों की याद में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। श्री अग्रवाल ने इस अवसर पर संस्थान की ओर से स्वतंत्रता संग्रा

महंत सर्वेश्‍वरदयाल सभागार लोकार्पण

श्री बबन प्रसाद मिश्र – रायपुर की पहचान (जैसे नगर घड़ी) एवं रायपुर का गौरव है।
Shri Baban Prasad Mishra – A symbol of Raipur city like Nagar Ghadi.

महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय परिसर में नवनिर्मित सभाकक्ष का लोकार्पण

भारत के उनसठवें गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर आप सभी को बधाइयां और शुभकामनाएं

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2008 के अवसर पर राजधानी रायपुर में आयोजित परेड में श्री ई.एस.एल नरसिम्‍हन महामहिम राज्‍यपाल, छत्‍तीसगढ़ का उद्बोधन एवं अन्‍य
Speech of Shri ESL Narsimhan, H. E. Governor, Chhattisgarh in Parade organised at Capital Raipur on Republic Day 26 January 2008 and other coverage.

राज्य के 49 विकासखण्ड बनेंगे तहसील, एक अप्रैल से राज्य में कमिश्नर प्रणाली प्रारम्भ होगी, सभी वर्ग की हाईस्कूल छात्राओं को मिलेगी साइकिलें

महाशिवरात्रि पर जनता को शुभकामनाएं

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कल छह मार्च को महाशिवरात्रि के अवसर पर जनता को अपनी हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। डॉ. सिंह ने महाशिवरात्रि की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी अपने एक संदेश में कहा है कि हमारी महान भारतीय संस्कृति में विभिन्न तीज-त्यौहारों की तरह महाशिवरात्रि का भी अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है।

डॉ. रमन सिंह ने आगे कहा कि सत्यम्, शिवम् और सुन्दरम् पर आधारित भगवान शिव का जीवन दर्शन सम्पूर्ण मानवता के लिए कल्याणकारी है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर भगवान शंकर से छत्तीसगढ़ सहित सम्पूर्ण भारत की जनता की सुख-समृध्दि और खुशहाली के लिए आशीर्वाद की कामना की है।

गणतंत्र दिवस सांस्कृतिक संध्या आयोजन

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2008 के अवसर पर राज्य शासन के संस्कृति विभाग द्वारा राजधानी रायपुर में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जा रहा है। सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम यहां महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय के मुक्ताकाश मंच पर शाम 7 बजे शुरू होगा।

महामहिम राज्यपाल श्री ई.एस.एल.नरसिम्हन सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे। संस्कृति मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल और महापौर श्री सुनील सोनी इस अवसर पर विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे।

आधुनिकता में भी मूल संस्कृति को बनाए रखें

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने स्थानीय शहीद स्मारक भवन में आयोजित ''सिंधियत जो दर्शन'' कार्यक्रम में सिंधी समाज की नई पीढ़ी के लिए सामाजिक मूल्यों और परम्पराओं की  शिक्षा पर विशेष बल दिया । उन्होंने कहा कि आधुनिकता के प्रभाव में आज सभी समाजों की मूल संस्कृति प्रदूषित होती जा रही है। नई पीढ़ी के लोग अपनी परम्परा, संस्कार और सामाजिक गौरव को भूलते जा रहे हैं। ऐसे में अपनी संस्कृति को बनाए रखना हम सबका सामाजिक दायित्व है ।