विकास

बारहमासी आवागमन देती पुलें और सड़कें

छत्तीसगढ़ के विकास में पुल और सडकों की अहम् भूमिका है, लोक निर्माण के कार्यों ने प्रदेश को बहुत आगे कर दिया है.

कर्रा-गतौरा क्षेत्र के लोगों को अब बारहमासी आवागमन का लाभ

रायपुर में जंगी चुनावी भूमिपूजन शिलान्यास

राजधानी की जनता को चार विधान सभा क्षेत्र में 680 करोड़ के निर्माण कार्यों की सौगात : मुख्यमंत्री ने किया भूमिपूजन-शिलान्यास

राजधानी का होगा स्मार्ट सिटी के रूप में विकास: डॉ. रमन सिंह

साठ दिनों तक गांव-गांव का दौरा

डॉ. रमन सिंह तो गए थे हवाई मार्ग से हेलिकॉप्टर द्वारा पर जनता की जरुरत सडकों के जाल पर बहुत ध्यान दिया अब छत्तीसगढ़ में 30 हजार करोड़ रूपए की लागत से बिछाया जा रहा है सड़कों का जाल

मुख्यमंत्री ने राजनांदगांव जिले में किया लगभग 468 करोड़ रूपए लागत की सात सड़कों का भूमिपूजन, राजनांदगांव जिले में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में 91 हजार महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन, किसानों को मिली 230 करोड़ रूपए की फसल बीमा राशि, प्रधानमंत्री आवास योजना: तीस हजार आवासों की मंजूरी

छत्तीसगढ़ के मुख्य मंत्री का विकास परक गणतंत्र दिवस झंडारोहण

मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों के नाम अपने संदेश में कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की। बस्तर संभाग और जिले के मुख्यालय जगदलपुर में मुख्य अतिथि की आसंदी से गणतंत्र दिवस समारोह को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य के चुनौतीपूर्ण कठिन इलाकों में अपनी सेवाएं देकर राष्ट्र निर्माण में योगदान देने वाले चिकित्सा विशेषज्ञों और डॉक्टरों के लिए मुख्यमंत्री मेडिकल फेलोशिप योजना शुरू की जाएगी। जिला और राज्य स्तरीय नीतियों के निर्माण में प्रतिभाशाली और विचारशील युवाओं की सोच का लाभ मिल सके और प्रशासन को कारगर बनाया जा सके इसके लिए मुख्यमंत्री सुशासन फेलोशिप (मुख्यमंत्री

'छत्तीसगढ़ विकास' का विमोचन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा

देश और दुनिया के विकास का रास्ता गांवों और खेतों से होकर निकलता है। किसानों की सम्पन्नता से ही बाजारों में चहल-पहल हो सकती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुनिया में आगे चल कर भारतीय अर्थ व्यवस्था ही टिकाऊ होगी, क्योकि यह कृषि पर आधारित है। डॉ. रमन सिंह ने आज सवेरे यहां अपने निवास पर राज्य योजना मंडल द्वारा प्रकाशित पुस्तक 'छत्तीसगढ़ विकास' का विमोचन करते हुए इस आशय के विचार व्यक्त किए। योजना मंडल के उपाध्यक्ष डॉ. दीनानाथ तिवारी, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. लक्ष्मण चतुर्वेदी और इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के कुलपति डॉ.

छत्तीसगढ़ विकास कार्य और मानव संसाधन विकास हुआ

रायपुर, 17 जून 2008 छत्तीसगढ़ में पिछले चार सालों में विकास कार्यों के साथ-साथ मानव संसाधन का भी तेजी से विकास हुआ है। राज्य शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के जरिये हर वर्ग के लोगों के विकास की व्यवस्था की गई है। महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण राज्यमंत्री सुश्री लता उसेंडी ने विकास यात्रा के दौरान विभिन्न गांवों में आयोजित कई जनसभाओं को संबोधित किया।

सूरसागर का पुराना वैभव फिर लौटेगा

राजस्‍थान जयपुर, मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने मंगलवार को बीकानेर में चल रहे विकास कार्यों का सघन निरीक्षण किया तथा कार्यों को गुणवता के साथ समय पर पूरा करने के निर्देश दिए।
श्रीमती राजे ने सूरसागर तालाब के निरीक्षण के वक्त कहा कि जून 2008 तक नगर का यह प्राचीन व ऐतिहासिक तालाब अपने पुराने वैभव में लौट आएगा। स्वच्छ जल में लोग आराम से स्नान कर सकेंगे व बोटिंग का आनंद ले सकेंगे।

भारत में औसत वार्षिक जल संसाधन क्षमता का मूल्यांकन

देश में सतही और उप-सतही स्रोतों से जल की उपलब्धता का समुचित मूल्यांकन उचित आयोजना, विकास और प्रबंधन का आधार है । जल संसाधनों की आयोजना, विकास और प्रबंधन को बहु-क्षेत्रीय, बहु-विभागीय और भागीदारीपूर्ण दृष्टिकोण के साथ ही राष्ट्रीय जल नीति, 2002 के अनुसार समन्वित गुणवत्ता, संख्या और पर्यावरण संबंधी पहलुओं पर आधारित एक जलविज्ञान इकाई के आधार पर किया जाना चाहिए । तदनुसार, नदी घाटी पर आधारित जल संसाधन मूल्यांकन किया जा रहा है ।