रोजगार

महासमुन्द में दो करोड़ का रोजगार मंजूर

रोजगार गारंटी योजना : लगभग दो करोड़ रुपए के कार्यों की स्वीकृति
महासमुन्द, 22 नवंबर 2011 - जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत खल्लारी विधानसभा क्षेत्र में सड़क, पुलिया, निर्मलाघाट और उलट निर्माण के कुल 28 कार्य कराए जाएंगे। इन कार्यों के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत द्वारा एक करोड़ 98 लाख 75 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है।

बनीता बाई को लुकास टीवीएस में 12000 हजार मासिक

हुनर और प्रशिक्षण का जादू, पुणे में नौकरी लगी, ‘‘ हूनर से मिला रोजगार ’’ : बनीता की जिन्दगी में आया बदलाव: पूना में मिली नौकरी, कांसाबेल से चाकन / चाकण पुणे और वो भी लुकास टीवीएस में? गजब की तरक्की की गजब की तरक्की की कहानी है बनिता बाई नमक युवती की

रायपुर 27 मई 2017 -  बदलते दौर में महिलाएं घर गृहस्थी के दायरे से निकलकर रोजगार क्षेत्र में भी जगह बना रही हैं। समय के साथ-साथ महिलाओं ने आज हर क्षेत्र में अपना कार्यक्षेत्र बनाने का प्रयास किया है ।

पानी बचाने डबरी, तालाब और कुंआ निर्माण पर जोर

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य में पानी बचाने और जल संरक्षण के लिए मनरेगा के तहत अधिक से अधिक संख्या में डबरी, तालाब और कंुओं का निर्माण किए जाने की जरूरत पर बल दिया है। 

रोजगार और सस्ता चावल

हम गांव क्यों छोड़ें ? - विकासखण्ड लोरमी के ग्राम गुनापुर के प्रमादी व सुरेश दोनो कहते हैं कि पहले मजदूरी के लिये उन्हें जिले से बाहर जाना पड़ता था। क्योंकि उन्हें अपना व बच्चों का पेट पालना पहले मुश्किल था। परन्तु राज्य सरकार ने हमारे गांव में रोजगार गारंटी के कार्य खोले और सस्ते चावल की व्यवस्था की है तो हम रोजी-रोटी के लिए गांव छोड़कर दूर क्यों जाएं ?

खुशी से वे कहते हैं कि अब तो सरकार उन्हें बच्चों की तरह पाल रही है। जुलाई माह से वे दो रुपये किलो में चावल खरीदेंगे। बिलासपुर जिले के ग्राम लगरा की बरमतबाई कहती हैं कि डॉ. रमन सिंह ने गरीबों का ख्याल रखा है।

बांस शिल्प रोजगार रास्ता

रायपुर, 01 जुलाई 2009 - छत्तीसगढ़ में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा संचालित गरीबी उन्मूलन परियोजना 'नवा अंजोर' की सहायता से महासमुंद जिले के आदिवासी बहुल गांव वनसिवनी की महिलाओं ने समहित समूह बनाकर बांस शिल्प से रोजगार का रास्ता खोज लिया है।