मुख्यमंत्री योग करते हुए

डॉ रमन सिंह केंद्रीय मंत्री गण और अन्य लोगो के साथ योग करते हुए

नियमित योग अभ्यास से स्वस्थ रहेगा तन-मन : डॉ रमन सिंह : केन्द्रीय मंत्री श्री पीयूष गोयल और श्री रमाशंकर कथेरिया ने भी स्कूली बच्चों के साथ किया योग अभ्यास
मुख्यमंत्री ने योग शिक्षकों का किया सम्मान

रायपुर, 21 जून 2016 - अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आज सवेरे राजधानी रायपुर में डब्ल्यू आर.एस.कॉलोनी स्थित केन्द्रीय विद्यालय क्रमांक-एक में सामूहिक योग प्रदर्शन शिविर का आयोजन किया गया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। कार्यक्रम की अध्यक्षता केन्द्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री श्री पीयूष गोयल ने की। मुख्यमंत्री और केन्द्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री श्री गोयल, केन्द्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री डॉ. रामशंकर कथेरिया और छत्तीसगढ़ सरकार के श्रम, खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री भैयालाल राजवाड़े ने स्कूली बच्चों और आम नागरिकों के साथ सामूहिक योगाभ्यास किया। शिविर का आयोजन राज्य सरकार के स्कूल शिक्षा विभाग और रायपुर जिला प्रशासन द्वारा किया गया।

    मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने शिविर में लोगों को संबोधित करते हुए द्वितीय अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस की बधाई दी। उन्होंने कहा कि आज के दिन छत्तीसगढ़ ही नहीं, पूरे देश सहित विश्व के 170 देशों में जनप्रतिनिधि और आम जनता योग कर रही है। यह हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का प्रयास है कि 21 जून को पूरे विश्व में योग दिवस के रूप में मनाया जा रहा है।  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा - एक डॉक्टर रूप में भी मैं यह बताना चाहता हूं कि योग से मन और तन दोनों स्वस्थ रहते हैं। इससे हमारे शरीर को 10 गुना अधिक आक्सीजन मिलती है। सबसे ज्यादा आक्सीजन की जरूरत हमारे मस्तिष्क को होती है। मुख्यमंत्री ने कहा - जो भी योग करेगा उसकी याददाश्त हमेशा ताजा रहेगी। उन्होंने कार्यक्रम में स्कूली बच्चों द्वारा की गयी योग क्रियाओं की सराहना की और कहा कि जो बच्चा नियमित रूप से योग करेगा उसे कभी भी परीक्षा के दौरान घबराहट नहीं होगी और हमेशा परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करेगा। 

मुख्यमंत्री डॉ सिंह ने बताया कि नियमित योगाभ्यास से उन्हें भी लाभ हुआ है। उन्होंने जशपुर जिले के बच्चों का उदाहरण देते हुए बताया कि जशपुर में बच्चों के एक समूह ने करीब 100 स्कूलों में जाकर जल सरंक्षण और वृक्षारोपण का संकल्प दिलाया है। यहां पर भी उपस्थित बच्चे संकल्प लें कि वे इस वर्ष मानसून के दौरान कम से कम एक-एक पौधा जरूर लगाएंगे और उसकी देखभाल करेंगे। पौधा वृक्ष बनकर जीवन भर उनके साथ रहेगा और आस-पास के वातावरण को स्वच्छ रखेगा। मुख्यमंत्री ने बच्चों को आत्म विश्वास बनाये रखने की भी प्रेरणा दी। उन्होंने स्वच्छ छत्तीसगढ़-स्वच्छ भारत के निर्माण में सभी लोगों से सहयोग का आव्हान किया। मुख्यमंत्री द्वारा कार्यक्रम में योग शिक्षकों को सम्मानित भी किया गया। इस अवसर पर विधायक श्रीचंद सुन्दरानी, मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड,  स्वास्थ्य विभाग के सचिव श्री सुब्रत साहू,  स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव श्री विकासशील, अन्य अधिकारीगण और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

हिन्दी