भरी गर्मी में देखी जनता की गोशाला

दोपहर का नजारा, तरकोरी की गौशाला में मुख्यमंत्री - गोवंश की रक्षा हम सबकी सामाजिक-नैतिक जिम्मेदारी: डॉ. रमन सिंह : मुख्यमंत्री अचानक पहुंचे सुरभि गौशाला

रायपुर 17 मई 2017 -  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के तहत आज विकासखंड धमधा के ग्राम तरकोरी अचानक पहुंचे। उन्होंने वहां समाज सेवी नागरिकों द्वारा जन सहयोग से संचालित सुरभि गौ-शाला एवं जीवरक्षा केन्द्र को भी देखा। उन्होंने एक बछड़े को अपने हाथों से गुड़ भी खिलाया।

मुख्यमंत्री ने कहा- गौ-माता की सेवा और गौ-धन की रक्षा हम सब की सामाजिक और नैतिक जिम्मेदारी है। हमारी कृषि प्रधान भारतीय अर्थव्यवस्था में खेती-किसानी से लेकर दूध के उत्पादन तक गौवंश का महत्वपूर्ण योगदान होता है। मुख्यमंत्री ने इस बात पर खुशी जताई कि तरकोरी में जनसहयोग से इस गौशाला का संचालन किया जा रहा है, संस्था के सचिव श्री सनत सिंह ने मुख्यमंत्री को बताया कि गौशाला में इस समय लगभग 250 पशु रखे गए हैं। लावारिस घूमने वाले पशु भी इनमें शामिल हैं, जिन्हें नगरीय निकायों द्वारा पकड़ कर यहां भेजा जाता है। संस्था का गठन लगभग दो साल पहले किया गया था। गौशाला करीब डेढ़ एकड़ के रकबे में है। संस्था को जनसहयोग के साथ-साथ छत्तीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग से अनुदान भी मिलता है। मुख्यमंत्री ने गोवंश केसरंक्षण के लिए सभी लोगों से सहयोग बनाए रखने का आव्हान किया।

लोकसुराज में ग्रामीण की बात पर मुस्कुराते मुख्यमंत्री: चौपाल में मुख्यमंत्री से ग्रामीणों की अतरंग बातचीत, ठीक पीछे हैं मुख्यासचिव विवेक ढांड

रमन सिंह प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के तहत आज विकासखंड धमधा के ग्राम तरकोरी अचानक पहुंचे, तो चौपाल में ग्रामीणों ने उनसे अतरंग होकर और खुलकर बातचीत की। मुख्यमंत्री ने भी सबकी बातों को धैर्य से सुनकर उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए हरसंभव मदद का भरोसा दिया। उनके अपनत्व से मुख्यमंत्री काफी प्रभावित हुए।

हिन्दी