बारिश

मुफ्त एचआईवी एड्स और आँख की बीमारी सलाह

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान तथा आँख लाल होने पर तत्काल चिकित्सक से ले सलाह :मौसमी बीमारियों से बचने साफ-सफाई और सावधानी जरूरी

रायपुर, 22 जुलाई 2017 - स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा मौसमी बीमारीयों से बचने के लिए आवश्यकवधानी बरतने को कहा गया है। इसके लिए संक्रमण से बचाव के उपाय भी बताए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग के आयुक्त और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के संचालक श्री आर.

सरकार को फिक्र है खेती-किसानी-बागवानी और छत्तीसगढ़ के किसानों की: खरीफ फसलों की बोनी पूरी

साल2017 की अच्छी बारिश के बीच खेतिहर अपने काम में लग गए हैं और छत्तीसगढ़ की सरकार भी उनके पीछे खेती की फिक्र में अपनी जरुरी सलाह जारी करना प्रारंभ कर चुकी है. खेती किसानी के लिए सबसे अच्छा उपाय है सरकारी सलाहों पर लगातार ध्यान दिया जाए और अमल किया जाए. आइए देखते डॉक्टर रमन सिंह  की नीतियों के अनुरूप सरकारी तंत्र आपको कृषि सलाह में क्या बता रहे हैं.

बारिश में वरिष्ठता निर्धारण : सरकारी नौकरी में हर्ष का वातावरण

बालोद : अंतिम वरिष्ठता सूची प्रकाशित - 18 जुलाई 2017 - जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि जिले के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत सहायक षिक्षक पंचायत(वर्ग 03) की पदोन्नति षिक्षक पंचायत (वर्ग 02) में किए जाने हेतु विकासखण्ड षिक्षा अधिकारियों से षिक्षाकर्मियों के प्राप्त प्रस्ताव अनुसार वरिष्ठता सूची जारी कर दावा आपत्ति आमंत्रित किया गया था। प्राप्त दावा आपत्ति निराकरण उपरांत अंतरिम सूची का प्रकाषन किए जाने हेतु सूची विकासखण्ड षिक्षा अधिकारियों को प्रेषित की गई थी। जिसका अवलोकन संबंधित सहायक षिक्षक पंचायत  द्वारा विकासखण्ड षिक्षा अधिकारी कार्यालय में किय

खरीफ कृषि आदान व्यवस्था बारिश पूर्व समीक्षा

खेती किसानी मानसून पर सरकारी तैय्यारी - सोसायटी स्तर पर बारिश के पहले सुनिश्चित करें खाद-बीज का पर्याप्त भण्डारण : डॉ. रमन सिंह

स्वाइल हेल्थ कार्ड की अनुशंसा के अनुसार हो उर्वरकों का उपयोग

किसानों को शून्य ब्याज दर पर अब तक वितरित किया गया 1407 करोड़ रूपए का अल्पकालीन कृषि ऋण 

मुख्यमंत्री ने की खरीफ कृषि आदान व्यवस्था की समीक्षा 

नारायणपुर में खुलेगा नवीन कृषि महाविद्यालय और राजनांदगांव में नवीन वेटनरी पॉलिटेक्निक 

प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना में कुल कृषि क्षेत्र का 49 प्रतिशत क्षेत्र शामिल

आया मानसून, होगी जल्दी बारिश, करें तैयारी

मानसून के जल्द आने का अनुमान : किसानों को खरीफ मौसम की खेती के लिए जरूरी प्रारंभिक तैयारी करने की सलाह : खाद-बीज की अग्रिम व्यवस्था करने से समय पर बोनी करने में होती है सहूलियत
रबी फसलों के कच्चे अवशेषों को खेतों की जोताई कर जमीन में दबाने का सुझाव

छत्तीसगढ़ मानसून बारिश

धान की कम अवधि की किस्में ही लगाएं किसान
छत्‍तीसगढ़ रायपुर, 02 जुलाई 2009 - छत्तीसगढ़ में मानसून की बारिश होते ही खेतों में बीज बोवाई का काम शुरू हो गया है। प्रदेश की प्रमुख फसल धान की खुर्रा बोनी के साथ-साथ रोपा पध्दति और मेडागास्कर विधि से खेती के लिए किसानों ने नर्सरी लगाना भी शुरू कर दिया है।

मानसून में देरी और वर्षा की अनिश्चित्ता को ध्यान में रखते हुए कृषि विभाग के अधिकारियों ने किसानों को किसी भी स्थिति में लंबी अवधि की धान की किस्में जैसे-स्वर्णा, एम.टी.यू.-1001, मासूरी आदि नहीं लगाने की सलाह दी है।