पहली बार एक सौन्दर्य प्रतियोगिता तृतीय लिंग के लिए, जेसीआई आयोजन

तृतीय लिंग समुदाय के लिए देश में पहली बार सौन्दर्य प्रतियोगिता का आयोजन आगामी 03 जून को रायपुर में
समाज कल्याण मंत्री श्रीमती रमशीला साहू ने किया प्रतियोगिता के प्रथम ब्रोशर का विमोचन
समाज कल्याण विभाग और स्वयं सेवी संस्थान जेसीआई द्वारा देश में अपनी तरह का यह पहला आयोजन

रायपुर 25 अप्रैल 2018 - जेसीआई की प्रतिनिधि और आयोजन समिति की अध्यक्ष सुश्री नेहा शेलमन ने बताया कि इस आयोजन के लिए रायपुर ,रायगढ़ और जगदलपुर में तीन ऑडिशन किये जायेंगे ऑडिशन में बाद फाइनल राउंड के लिए 20 प्रतिभागियों का चयन किया जाएगा जो 03 जून को रायपुर में फ़ाइनल प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगे । चयनित 20 प्रतिभागियों को तीन दिनों तक एक साथ रखा जायेगा और उन्हें अलग अलग टास्क दिए जायेंगे. इस दौरान ये सभी प्रतिभागी समाज के हर तबके से मुलाकात करेंगे और अपने अनुभव साझा करेंगे. ब्रोशर के विमोचन के दौरान कार्यक्रम के संयोजक श्री अजय अग्रवाल ,प्रोग्राम डायरेक्टर और कोरियोग्रफेर श्रीमती एकता मलंग, समाज सेविका और अंतर्राष्ट्रीय कराटे खिलाड़ी श्रीमती हर्षा साहू, सुश्री वाजिदा मिर्ज़ा सर्वश्री समीर शेख ,संजय सिंह,योगेन्द्र नायक और लोकेश पवार भी उपस्थित थे।

इस मुलाकात के दौरान श्रीमती साहू ने जेसीआई की इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार समाज के हर तबके को आगे बढ़ाने के लिए सदैव तत्पर रही है। तृतीय लिंग समुदाय के लोगों के व्यक्तित्व विकास, आर्थिक और सामाजिक उन्नयन के साथ ही समाज में उन्हें सम्मान जनक स्थान दिलाने के लिए राज्य सरकार हमेशा तत्पर रही है । श्रीमती साहू ने कहा कि समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए समाज के लोगों को आगे आना बहुत ज़रूरी है,जब समाज के लोग इस तरह की पहल करते हैं तो उन्हें बहुत ख़ुशी होती है. राज्य शासन द्वारा इस आयोजन के लिए हर संभव सहयोग किया जायेगा।

राज्य शासन और स्वयं सेवी संस्थान जेसीआई के संयुक्त तत्वाधान में देश में पहली बार तृतीय लिंग समुदाय के लिए सौन्दर्य प्रतियोगिता का आयोजन आगामी तीन जून को किया जायेगा। समाज कल्याण मंत्री श्रीमती रमशीला साहू ने आज यहाँ अपने शासकीय निवास स्थित कार्यालय में इस प्रतियोगिता के प्रथम ब्रोशर का विमोचन किया । इस दौरान उन्होंने जेसीआई संस्था की ओर से आए प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात की जिसमें इस संस्थान के अलग अलग चेप्टरों के अध्यक्ष और सदस्य शामिल थे ।

हिन्दी