निधन

मुख्यमंत्री ने श्री रमेशचन्द्र अग्रवाल के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया

रायपुर, 12 अप्रैल 2017 - छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने दैनिक भास्कर समाचार पत्र समूह के चेयरमेन श्री रमेशचन्द्र अग्रवाल के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। डॉ. सिंह ने आज यहां जारी शोक संदेश में कहा है कि स्वर्गीय श्री रमेशचन्द्र अग्रवाल ने अपने समाचार पत्र के माध्यम से देश में हिन्दी पत्रकारिता के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

फूलचंद जैन के निधन पर गहरा दुःख

मुख्यमंत्री ने गौ सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्री फूलचंद जैन के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया

रायपुर 06 अप्रैल 2017 -  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने छत्त्तीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष और मुंगेली के पूर्व विधायक श्री फूलचंद जैन के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। डॉ. सिंह ने आज यहां जारी शोक-संदेश में कहा है कि स्वर्गीय श्री जैन सहज-सरल स्वभाव के एक लोकप्रिय समाज सेवी थे, जिन्होंने गौ वंश के संरक्षण और संवर्धन में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। मुंगेली क्षेत्र के विधायक के रूप में भी उन्होंने जनता को अपनी मूल्यवान सेवाएं दी।

नहीं रहे मन्नू लाल यदु मनु अस्मिता का निधन

'राम वन गमन मार्ग' 'छत्तीसगढ़ अस्मिता' वाले डाॅ. मन्नूलाल का पुरानी बस्ती टुरी हटरी निवास में हार्ट फेल से स्वर्गवास

रायपुर, 24 मार्च 2017 - भगवान श्रीराम के छत्तीसगढ़ में राम वन गमन मार्ग की खोज करने वाले प्रदेश के प्रसिद्ध साहित्यकार डॉ. मन्नू लाल यदु मनु का शुक्रवार सुबह हार्ट अटैक से निधन हो गया।

डॉ. मन्नू लाल यदु 83 वर्ष के थे, उनका जन्म 13 मार्च 1934 को बेमेतरा जिले के ग्राम मटका में हुआ था।

मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय श्री रामलाल चन्द्राकर के घर जाकर संवेदना प्रकट की

रायपुर, 28 जून 2009 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज शाम यहां चौबे कॉलोनी में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, पूर्व विधायक और तत्कालीन अविभाजित मध्यप्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री स्वर्गीय श्री रामलाल चन्द्राकर के निवास पर उनकी धर्मपत्नी श्रीमती सुखवती चन्द्राकर और उनके पुत्रों और पुत्रियों सहित उनके सभी शोक संतप्त परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना प्रदान की। मुख्यमंत्री ने श्री चन्द्राकर के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया।

श्री चेलाराम चन्द्राकर के निधन पर शोक

रायपुर, 18 जून 2008 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य के पाटन क्षेत्र के पूर्व विधायक श्री चेलाराम चन्द्राकर के आकस्मिक निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए उनके शोक संतप्त परिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है। मुख्यमंत्री ने आज यहां जारी शोक संदेश में कहा है कि सहज-सरल और मिलनसार स्वभाव के धनी स्वर्गीय श्री चेलाराम चन्द्राकर छत्तीसगढ़ के एक कर्मठ किसान नेता थे, जिन्होंने वर्ष 1980 से 1985 तक तत्कालीन अविभाजित मध्यप्रदेश विधानसभा में छत्तीसगढ़ के पाटन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हुए जनता को अपनी उल्लेखनीय सेवाएं दी।