नवा अंजोर

नवा अंजोर स्वदेशी मेले में

रायपुर, 02 जनवरी 2008 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी उन्मूलन के लिए संचालित 'नवा अंजोर परियोजना' में स्थानीय लोगों की सक्रिय भागीदारी की प्रशंसा करते हुए कहा है कि इन लोगों ने यह साबित कर दिया है कि हस्तशिल्प और लघु एवं कुटीर उद्योगों में रोजगार की संभावनाएं सबसे अधिक होती हैं।

धनपुर के मछुआरों को मिला धन कमाने का साधन

रायपुर, 16 अप्रैल 2008 - छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले के विकासखंड सक्ती में ग्राम पंचायत धनपुर के मछुआरों को अपने गांव के नाम के अनुरूप धन कमाने का एक अच्छा साधन मिल गया है। मछली पालन के अपने परम्परागत व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए चिंतित इस गांव के ओमप्रकाश, रनसिंह, सितुराम, दुलारे सिंह, मुखीराम, श्यामलाल, बाबूलाल, मोहित राम और सम्मेलाल को जब यह जानकारी मिली की 'नवा अंजोर' परियोजना में समहित समूह बना कर वे किसी भी मनपसंद व्यवसाय के लिए शासकीय अनुदान प्राप्त कर सकते हैं, तो इन युवाओं ने ग्राम सभा में अपना यह प्रस्ताव रखा और सर्व सम्मति से 'जय विश्वकर्मा मत्स्य पालन समहित समूह' का गठन किया।

'नवा अंजोर' देश-विदेश के लोगों का आकर्षण 'अन्तर्राष्ट्रीय एक्सपो' में

छत्तीसगढ़ के चालीस चयनित विकासखण्डों के अंतर्गत दो हजार 023 ग्राम पंचायतों में एक लाख परिवारों को लक्ष्य बनाकर संचालित गरीबी उन्मूलन की विशेष परियोजना 'नवा अंजोर' ने राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में देश-विदेश के लोगों का ध्यान आकर्षित किया।