धान संग्रहण केन्द्र

तीन माह में सुधारें धान उपार्जन केन्‍द्रों के कम्‍प्‍यूटर रिकार्ड

रायपुर, 01 जुलाई 2009 - खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण विभाग के प्रमुख सचिव श्री विवेक ढांड ने प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी विपणन संघ रायपुर को आगामी तीन माह में जिला स्तर पर अभियान चलाकर धान खरीदी केन्द्रों के कम्प्यूटर में रिकार्ड सुधार करने के निर्देश दिए हैं।

श्री ढांड ने प्रदेश की सभी जिला कलेक्टरों को पत्र भेजकर कहा है कि शासन के ध्यान में यह बात आयी है कि राज्य के कई धान उपार्जन केन्द्रों में किसानों द्वारा धारित कृषि भूमि की सही-सही प्रविष्टि रिकार्ड नहीं की गई है।

धान तौलाई जौंदा केन्द्र प्रभारी निलंबित

रायपुर, 26 नवम्बर 2008 धान के तौल में अनियमितता की शिकायत सही पाए जाने पर छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले के धान संग्रहण केन्द्र जौंदा (राजिम) के प्रभारी श्री व्ही. के. श्रीवास्तव को निलंबित कर दिया गया है। उनके स्थान पर मार्कफेड मुख्यालय के वरिष्ठ सहायक श्री अरविन्द शर्मा को संग्रहण प्रभारी के रूप में पदस्थ किया गया है।

धान खरीदी के लिए इस वर्ष खुलेंगे 45 नये उपकेन्द्र

राज्य शासन द्वारा खरीफ विपणन वर्ष 2008-09 में समर्थन मूल्य नीति के तहत किसानों से धान की खरीदी 20 अक्टूबर शुरू की जा रही है। धान खरीदी की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। पिछले वर्ष 1532 केन्द्रों में धान उपार्जन किया गया था। राज्य में किसानों की सुविधा के लिए इस वर्ष 45 नये धान उपार्जन उप-केन्द्रों को स्वीकृति प्रदान की गई है। इन्हें मिलाकर राज्य में प्राथमिक सहकारी समितियों के माध्यम से धान खरीदी के लिए निर्धारित केन्द्रों की संख्या बढ़कर एक हजार 577 हो जाएगी। इन सभी केन्द्रों में किसानों से कॉमन धान 850 रूपए और ग्रेड ए धान 880 रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदा जाएगा। धान खरीदी की पूरी व्यव

सरगुजा में 49902 मीट्रिक टन धान की खरीदी

सरगुजा जिले में समर्थन मूल्य पर किसानों से अब तक 49902 मीट्रिक टन धान की खरीदी की जा चुकी है। इसमें मोटा धान 1454 मीट्रिक टन एवं ग्रेड ए धान 48448 मीट्रिक टन है। अम्बिकापुर संग्रहण केन्द्र के अन्तर्गत आने वाले 78 उपार्जन केन्द्रों के माध्यम से धान खरीदी की जा रही है। समितियों से अब तक 11965 मीट्रिक टन धान कस्टम मिलिंग को दिया जा चुका है। धान भरने के लिए समितियों में पर्याप्त बारदाना उपलब्ध है। किसानों को उनकी धान का समर्थन मूल्य तत्काल उपलब्ध कराने के लिए जिला विपणन केन्द्र अम्बिकापुर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक को 40.90 करोड़ की राशि दी गई है। कस्टम मिलिंग के लिए 18 हजार 800 मीट्रिक टन धान क