तड़पाने वाली गर्मी, ऑरेंज अलर्ट और तरकोरी, जमगहन में सीएम

ऑरेंज अलर्ट में भी जारी रहा मुख्यमंत्री का लोक सुराज दौरा : तरकोरी, जमगहन में अचानक पहुंचकर चौपालों में ग्रामीणों से मुलाकात

खेतों में शेड-नेट विधि से हो रही खीरे की उन्नत खेती को देखा, तरकोरी की चौपाल में मंगल भवन के लिए 10 लाख रूपए मंजूर

रायपुर, 17 मई 2017 - मौसम विभाग के ऑरेंज अलर्ट और लगभग 47 डिग्री तापमान की तेज धूप और गर्मी के बावजूद लोक सुराज अभियान के तहत मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का सघन दौरा आज भी जारी रहा। डॉ. सिंह रायपुर से हेलीकाप्टर द्वारा दुर्ग जिले के ग्राम तरकोरी (विकासखंड धमधा) और बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के ग्राम जमगहन (विकासखंड बिलाईगढ़) अचानक पहुंचे। दोनों गांवों की चौपालों में उन्होंने ग्रामीणों से उनकी समस्याओं और जरूरतों के बारे में बातचीत की। 
डॉ. सिंह ने धमधा विकासखंड के ग्राम तरकोरी में उन्नत खेती का भी जायजा लिया। वे किसानों के खेतों में पहुंचे, जहां उन्होंने शेड नेट में की जा रही खीरे और अन्य सब्जियों की खेती को देखा। मुख्यमंत्री ने इस बात पर खुशी जतायी कि अब छत्तीसगढ़ के किसान खेती के उन्नत तौर तरीकों को अपनाने लगे हैं और गर्मियों में साग-सब्जी की भी अच्छी खेती कर रहे हैं।  डॉ. सिंह तरकोरी में संचालित गौशाला में भी पहुंचे, वहां उन्होंने पशुओं के रख-रखाव की जानकारी ली और एक बछड़े को गुड़ भी खिलाया।
 मुख्यमंत्री ने तरकोरी की चौपाल में 10 लाख रूपए की लागत से मंगल भवन और वहां के दो वार्डों में आठ लाख रूपए की लागत से सीमेंट कांक्रीट सड़क (सीसी रोड) मंजूर करने की घोषणा की। उन्होंने यह भी कहा कि गांव के नजदीक पाण्डेय तालाब से तरकोरी के किसानों को सिंचाई सुविधा दिलाने के लिए नहर निर्माण किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने तरकोरी में दो स्थानों पर पेयजल आपूर्ति के लिए सोलर पम्प लगवाने का भी ऐलान किया। मुख्यमंत्री को तरकोरी में स्थानीय पंचायत सचिव के विरूद्ध शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही की शिकायत मिली। इस पर उन्होंने कलेक्टर को संबंधित कर्मचारी के विरूद्ध नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। 

हिन्दी