जल

प्रदेश में अब तक 1163 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज

दंतेवाड़ा जिले में सबसे अधिक तथा कोरिया जिले में सबसे कम वर्षा हुई

     प्रदेश में चालू बरसात के मौसम में एक जून से 29 सितम्बर की स्थिति में 1163 मिलीमीटर औसत वर्षा रिकार्ड की गयी है। इस दौरान सबसे अधिक औसत वर्षा दंतेवाड़ा जिले में दर्ज की गयी है जबकि सबसे कम वर्षा कोरिया जिले में हुई है। कल 27 सितम्बर से 28 सितम्बर के बीच पिछले चौबीस घंटों में बीजापुर जिले में वर्षा नहीं होने की जानकारी राजस्व विभाग से प्राप्त हुई है। इसी समयावधि में धमतरी, रायगढ़, सरगुजा तथा दंतेवाड़ा जिले में एक से 2 मिलीमीटर तक वर्षा दर्ज की गयी है।

कामता सिंचाई जलाशय के लिए 2.66 करोड़ रूपए मंजूर

राज्य सरकार ने दुर्ग जिले के डौंडीलोहारा विकासखण्ड में कामता सिंचाई जलाशय निर्माण के लिए लगभग दो करोड़ 66 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान कर दी है। जल संसाधन विभाग ने यहां मंत्रालय में इस आशय का आदेश जारी कर दिया है।

प्रशासकीय स्वीकृति इस शर्त पर प्रदान की गयी है कि इस लघु सिंचाई परियोजना का निर्माण शुरू करने से पहले वनभूमि से संबंधित मामलों का निराकरण कर लिया जाएगा। कामता सिंचाई जलाशय के बन जाने पर क्षेत्र में खरीफ के दौरान 236 हेक्टेयर के रकबे में खेतों को पर्याप्त पानी मिल सकेगा।

कटौद सिंचाई व्यपवर्तन के लिए 1.47 करोड़ रूपए स्वीकृत

जल संसाधन विभाग ने रायगढ़ जिले के विकासखण्ड खरसिया में कटौद सिंचाई व्यपवर्तन योजना के लिए लगभग एक करोड़ 47 लाख रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति का आदेश यहां मंत्रालय से जारी कर दिया गया है।

इस लघु सिंचाई परियोजना का निर्माण पूर्ण होने पर क्षेत्र में खरीफ मौसम के दौरान लगभग 750 एकड़ (300 हेक्टेयर) के रकबे में फसलों के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध होगा।

बस्तर संभाग में सिंचाई रकबा बढ़ाने सिंचाई जलाशय और बांध से नि:शुल्क पानी देने का प्रस्ताव

उपलब्ध सिंचाई जलाशयों से पानी लेने हेतु
किसानों को प्रोत्साहित करने पर दिया गया बल
संभाग स्तरीय खरीफ 2007 और रबी 2007-08 कार्यक्रम निर्धारण की बैठक सम्पन्न