जल

नई दिल्‍ली में जल मंथन IV आयोजन 28-29 जुलाई 2017 को

जल क्षेत्र के विविध मामलों के समाधान के लिए विभिन्‍न हितधारकों के बीच व्‍यापक परामर्श और नए विचारों पर मंथन के प्रति अपनी संकल्‍पबद्धता के मद्देनजर जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय 28 और 29 जुलाई, 2017 को नई दिल्‍ली में जल मंथन – IV का आयोजन करेगा। इस संगोष्‍ठी में संबंधित मंत्रालयों/विभागों के केंद्रीय मंत्रियों, कुछ राज्‍यों/संघशासित प्रदेशों के मुख्‍यमंत्रियों, राज्‍यों/संघशासित प्रदेशों के सिंचाई/जल संसाधन मंत्रियों, जल क्षेत्र के जाने-माने विशेषज्ञों, गैर-सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र और राज्‍य सरकारों के वरिष्‍ठ अधिकारियों के भाग लेने की संभावना है।

ज्येष्ठ में जीवनदायिनी जलदान मुख्यमन्त्री

इस अनोखी प्याऊ में डॉ. रमण सिंह अपने हाथो से जल वितरण कर खास संदेस दे रहे हैं, गर्मी सबको लगती है, पानी सबको चाहिये

मुख्यमंत्री ने किसानों को अपने हाथों से पिलाया पानी : गर्मियों में प्याऊ संस्कृति को बढ़ावा देने और पशु-पक्षियों के लिए भी पेयजल व्यवस्था करने का आव्हान

समाधान शिविर में कई घोषणाएं: शिक्षा कर्मियों का वेतन भुगतान एक सप्ताह में करने के निर्देश

प्रदेश में अब तक 1163 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज

दंतेवाड़ा जिले में सबसे अधिक तथा कोरिया जिले में सबसे कम वर्षा हुई

     प्रदेश में चालू बरसात के मौसम में एक जून से 29 सितम्बर की स्थिति में 1163 मिलीमीटर औसत वर्षा रिकार्ड की गयी है। इस दौरान सबसे अधिक औसत वर्षा दंतेवाड़ा जिले में दर्ज की गयी है जबकि सबसे कम वर्षा कोरिया जिले में हुई है। कल 27 सितम्बर से 28 सितम्बर के बीच पिछले चौबीस घंटों में बीजापुर जिले में वर्षा नहीं होने की जानकारी राजस्व विभाग से प्राप्त हुई है। इसी समयावधि में धमतरी, रायगढ़, सरगुजा तथा दंतेवाड़ा जिले में एक से 2 मिलीमीटर तक वर्षा दर्ज की गयी है।

कामता सिंचाई जलाशय के लिए 2.66 करोड़ रूपए मंजूर

राज्य सरकार ने दुर्ग जिले के डौंडीलोहारा विकासखण्ड में कामता सिंचाई जलाशय निर्माण के लिए लगभग दो करोड़ 66 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान कर दी है। जल संसाधन विभाग ने यहां मंत्रालय में इस आशय का आदेश जारी कर दिया है।

प्रशासकीय स्वीकृति इस शर्त पर प्रदान की गयी है कि इस लघु सिंचाई परियोजना का निर्माण शुरू करने से पहले वनभूमि से संबंधित मामलों का निराकरण कर लिया जाएगा। कामता सिंचाई जलाशय के बन जाने पर क्षेत्र में खरीफ के दौरान 236 हेक्टेयर के रकबे में खेतों को पर्याप्त पानी मिल सकेगा।

कटौद सिंचाई व्यपवर्तन के लिए 1.47 करोड़ रूपए स्वीकृत

जल संसाधन विभाग ने रायगढ़ जिले के विकासखण्ड खरसिया में कटौद सिंचाई व्यपवर्तन योजना के लिए लगभग एक करोड़ 47 लाख रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति का आदेश यहां मंत्रालय से जारी कर दिया गया है।

इस लघु सिंचाई परियोजना का निर्माण पूर्ण होने पर क्षेत्र में खरीफ मौसम के दौरान लगभग 750 एकड़ (300 हेक्टेयर) के रकबे में फसलों के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध होगा।

बस्तर संभाग में सिंचाई रकबा बढ़ाने सिंचाई जलाशय और बांध से नि:शुल्क पानी देने का प्रस्ताव

उपलब्ध सिंचाई जलाशयों से पानी लेने हेतु
किसानों को प्रोत्साहित करने पर दिया गया बल
संभाग स्तरीय खरीफ 2007 और रबी 2007-08 कार्यक्रम निर्धारण की बैठक सम्पन्न