जयपुर

अम्बेडकर सामाजिक न्याय पुरस्कार सतीश कुमारको

अम्बेडकर न्याय पुरस्कार चयन समिति की बैठक सम्पन्न एडवोकेट श्री सतीश कुमार का किया चयन

जयपुर, 7 अप्रेल 2017। मुख्य सचिव श्री ओ.पी.मीना की अध्यक्षता में शुक्रवार को शासन सचिवालय में डॉ. भीमराव अम्बेडकर जयन्ती के अवसर पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा दिये जाने वाले ”अम्बेडकर सामाजिक न्याय पुरस्कार“ चयन समिति की बैठक सम्पन्न हुई। चयन समिति द्वारा एडवोकेट श्री सतीश कुमार, गोपालपुरा, जयपुर का चयन किया गया। 

जयपुर व बीकानेर में बनेगा स्टेट एक्सीलेंस सेंटर

जयपुर, 7 अप्रेल 2017। प्रदेश में मानसिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हुये 37 करोड़ की लागत से बीकानेर एवं जयपुर में स्टेट एक्सीलेंस सेंटर‘ स्थापित किये जा रहे हैं। साथ ही वृद्धजनों के मानसिक बीमारियां जैसे- डिमेंसिया आदि के प्रबंधन हेतु मानसिक रोग चिकित्सालय में जियरेट्रिक साइक्टि्रक केयर सेंटर भी प्रारंभ किये जा रहे हैं।

मैट्रो स्टेशन के पास आमजन की सुविधा

सिविल लाईन मैट्रो स्टेशन के पास बनेगा सुलभ शौचालय डॉ. चतुर्वेदी ने किया शिलान्यास  

जयपुर, 07 अप्रैल। सिविल लाईन मैट्रो स्टेशन के पास आमजन की सुविधा के लिए जयपुर नगर निगम द्वारा सुलभ शौचालय बनाया जायेगा जिसका शिलान्यास शुक्रवार को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री  डॉ. अरूण चतुर्वेदी ने भूमि पूजन कर किया।

जयपुर बम विस्फोट पर केबिनेट की बैठक में शोक प्रस्ताव पारित

''राज्य सरकार प्रदेश की राजधानी जयपुर में कल शाम कई स्थानों पर हुई, बम विस्फोट की घटना पर गहरा शोक व्यक्त करती है तथा हताहतों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए इस घटना की कड़े शब्दों में भर्त्सना करती है। इस जघन्य कृत्य को अंजाम देने वालों की जितनी निन्दा की जाए उतनी कम है। इस कृत्य ने मानवता को कलंकित करते हुए निरीह एवं निरपराध लोगों को मौत के घाट उतार दिया है एवं बहुत से लोगों को घायल कर दिया है।

इस कृत्य से आतंकारियों ने राज्य के सौहार्दपूर्ण माहौल को बिगाड़ने का घिनौना प्रयास किया है। राज्य सरकार इस तरह के षड़यंत्रों को निष्काम करने के लिए कृत संकल्प है।

जयपुर राज भवन में एकता प्रार्थना सभा

जयपुर, 14 मई। राज भवन में बुधवार की सायं राज्यपाल श्री एस.के.सिंह की पहल पर एकता प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। इस सभा में विभिन्न धर्मों और समुदाय के प्रतिनिधियों ने शांति पाठ और मंत्रोच्चार किये। प्रार्थना सभा में मंगलवार को जयपुर में हादसों में हुए हताहतों के लिए दो मिनिट का मौन रखकर सामूहिक श्रध्दाजंली दी गयी।

राज्यपाल ने इस प्रार्थना सभा में प्रदेशवासियों से अपील की कि वे ऐसे संकट के समय में जाति,धर्म, समुदाय, क्षेत्र, भाषा, और दलगत राजनीति के भाव को त्याग कर अपने मन में नर सेवा - नारायण सेवा का भाव जागृत करें। उन्होंने कहा कि इन्सानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं है।

डॉ. रमन सिंह ने जयपुर बम विस्फोटों की तीव्र निन्दा की

रायपुर, 14 मई 2008 - छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे सिंधिया को आज एक पत्र भेजकर जयपुर में आतंकवादियों द्वारा कल रात किए गए बम विस्फोटों की निंदा करते हुए इस वारदात में अनेक नागरिकों के मारे जाने पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

जयपुर बम विस्फोट में मृतकों के परिजनों को सहायता

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे एवं लोकसभा में विपक्ष के नेता श्री लालकृष्ण आडवाणी बुधवार को जयपुर में बम विस्फोटो से उत्पन्न स्थिति का जायजा लेते हुए।

राजस्‍थान राज्‍यपाल द्वारा जयपुर धमाका हादसा स्‍थलों का निरीक्षण

घटना स्थलों को मौके पर जाकर देखा
अस्पतालों में जाकर घायलों की कुशलक्षेम पूछी
राज्यपाल ने घटना की निन्दा की
ऐसा कृत्य करने वालों को छोड़ा नहीं जायेगा

जयपुर, 13 मई - राज्यपाल श्री एस.के. सिंह आज सायं जयपुर शहर में होने वाले बम्ब धमाकों वाले सभी स्थानों पर गये। उन्होंने इस हृदय विदारक घटना की निन्दा करते हुए कहा कि हम ऐसे कृत्य करने वालों को छोडेंग़े नहीं। उनको पकड़ लिया जायेगा। राज्यपाल ने कहा कि राजस्थान की जनता हमारी प्राण है।

फल-फूल-सब्जी कृषि प्रदर्शनी

किसान खेती के साथ-साथ अन्य काम धंधे भी अपनायें

जयपुर, राजस्‍थान - उद्योग मंत्री डा.दिगम्बर सिंह ने कहा है कि प्रतिस्पर्धा के इस दौर में जब खेती लाभ का कार्य नही रहा तो आवश्यक है कि किसान खेती के साथ अन्य कामधन्धे अपनाये और कृषि उत्पादों पर आधारित छोटे छोटे उद्योग लगायें।

विधवाओं को नकद सहायता राशि प्रदान की

राजस्‍थान ग्रामीण विकास मंत्री ने हलेड ग्राम में दो विधवाओं को सहायता राशि प्रदान की

जयपुर,  ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री श्री कालूलाल गुर्जर ने रविवार को भीलवाड़ा के हलेड़ ग्राम में दो विधवाओं को ग्राम पंचायत की ओर से प्रदत्त सहायता राशि प्रदान की।
ग्रामीण विकास मंत्री हलेड ग्राम के देबीलाल बलाई की मृत्यु होने पर उसके घर गये और परिजनों को सांत्वना प्रदान की।