जयकारा

गूंजने लगे माता के जयकारे

चैत्र नवरात्र का सन् २०१६ में खास मुहूर्त रहा अभिजीत और मत के जोत के साथ जयकारों की गूँज सर्वत्र व्याप्त हो गई। 

देवी भवानी के प्रति श्रद्धा अपने आप जयकारे की गूँज साथ लेकर आती है। 

गर्मी की दुर्गा देवी पूजा में शारदीय नवरात्री की भांति ही माता के जयकारे गूंजने लगते हैं। 

जयकारा मत भक्तों के मन की श्रद्धा की आवाज होती है।


नवरात्रि में व्रत, उपवास, पूजा अर्चना और आरती जयकारा एक बहुत सूंदर पवित्र वातावरण धरती पर निर्मित करता है। 

माता के जयकारे गूंजने लगे और चैत्र नवरात्रि के पर्व का आगाज़ हो गया।