चीन से छत्तीसगढ़ में 16000 करोड़ रूपए पूंजी निवेश

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ के व्यापार मिशन को चीन में बड़ी सफलता : चीनी कम्पनियों ने छत्तीसगढ़ में लगभग 16000 करोड़ रूपए के पूंजी निवेश के लिए किया करार

सौर ऊर्जा, इलेक्ट्रॉनिक्स, सीमेंट, सिक्युरिटी कैमरा और इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण पर होगा निवेश

रायपुर 9 अप्रैल 2016 - छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में चीन गए राज्य के व्यापार मिशन को आज चौथे दिन वहां के गुआंगझाऊ (guangzhou) प्रांत के प्रमुख महानगर शेनजेन में भी बड़ी सफलता मिली है। मुख्यमंत्री के समक्ष आज छत्तीसगढ़ में सौर ऊर्जा, इलेक्ट्रॉनिक्स, सीमेंट और विद्युत चलित वाहनों के निर्माण, सिक्युरिटी कैमरा एवं वीडियो रिकार्डस निर्माण में निवेश के लिए 2.4 बिलियन अमेरिकी डालर अर्थात लगभग 16 हजार करोड़ रूपए के निवेश के लिए समझौता ज्ञापनों  (एमओयू)  पर हस्ताक्षर किए गए।
यह इस प्रतिनिधिमंडल के चीन दौरे की सबसे बड़ी सफलता है। उल्लेखनीय है कि कल  चीन के हेनान प्रांत की राजधानी झेंगझाउ (zhengzhou) में लगभग छह हजार 600 करोड़ रूपए (लगभग 945 मिलियन अमेरिकी डालर) के  पूंजी निवेश प्रस्तावों पर चीनी कम्पनियों के साथ छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए थे। शेनजेन महानगर चीन में सूचना प्रौद्योगिकी और इलेक्ट्रानिक उद्योग का एक बड़ा केन्द्र माना जाता है। मुख्यमंत्री और उनके प्रतिनिधि मंडल ने आज शेनजेन इलेक्ट्रॉनिक चेम्बर ऑफ कामर्स, शेनजेन व्यापार एवं निवेश बोर्ड तथा भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) की संयुक्त बैठक में हिस्सा लिया। इसमें चीन के उद्योग व्यापार जगत के 25 संगठनों के लगभग 70 प्रतिनिधि शामिल थे। डॉ. रमन सिंह और छत्तीसगढ़ के प्रतिनिधिमंडल से चीन के आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण के प्रमुख केन्द्र शेनजेन पहंुचा और वहां 60 से अधिक कम्पनियों के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ सरकार के मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड, आवास एवं पर्यावरण विभाग तथा मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री अमन कुमार सिंह, कोलकाता स्थित चीन के महा वाणिज्य दूत श्री मां झानवु, चीन के गुआंगजौ प्रांत में भारत के लिए काउंसिल जनरल श्री वाय. के. सैलास थंगल सहित प्रतिनिधिमंडल के सभी अधिकारी उपस्थित थे। वाणिज्य और उद्योग विभाग के सचिव श्री सुबोध कुमार सिंह ने सात समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए।
मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने वहां राज्य की औद्योगिक नीति और छत्तीसगढ़ में सौर ऊर्जा और इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में निवेश की संभावनाओं की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने चीन के उद्यमियों और निवेशकों को छत्तीसगढ़ के दौरे का न्यौता दिया और कहा कि वे स्वयं वहां आकर देखे कि छत्तीसगढ़ सरकार उनके जैसे उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए क्या कुछ कर रही है।  इसके बाद सात विभिन्न कम्पनियों द्वारा छत्तीसगढ़ में पूंजी निवेश के लिए राज्य सरकार के साथ एमओयू किया। इनमें एशिया पेसिफिक जनरेशन लिमिटेड कम्पनी छत्तीसगढ़ में सोलर पॉवर प्लांट की स्थापना के लिए 600 मिलियन अमेरिकी डालर का निवेश करेगी। इसके साथ ही चाईना हेनान बम्पर इलेक्ट्रिक व्हीकल निर्माण के लिए 500 मिलियन अमेरिकी डालर, हांगकांग जिनयुन इन्टरनेशल डेव्हलपमेंट लिमिटेड सीमेंट प्लांट की स्थापना के लिए 01 बिलियन अमेरिकी डॉलर निवेश करेगी। इसके अलावा गुआंगजौ जुआन ऑप्टिकल और इलेक्ट्रिकल टेक ज्वाइंट स्टॉक कम्पनी सिक्युरिटी कैमरा और नेटवर्क वीडियो रिकार्डस निर्माण के लिए, कूशन टेक्नालॉजी यूएसबी ड्राईव निर्माण, रिसन एनर्जी फोटो वोल्टिक सेल और सेनजेन फ्ल्युएंस टेक्नालॉजी कम्पनी ने भी एमओयू किया गया है।  

हिन्दी