गर्मी की आंगनबाड़ी में दीवाल पर चित्रकारी करते मुख्यमंत्री

तपती दोपहरी में बच्चों के साथ बच्चे बने मुख्य मंत्री, चलो अच्छा है, यहां भी एक ‘रमन’ है ...! : मुख्यमंत्री अचानक पहुंचे आंगनबाड़ी केन्द्र, बच्चों के साथ दीवार पर खुद बनाने लगे ड्राइंग

बोरावण्ड की चौपाल में आठ किलोमीटर सड़क सहित कई घोषणाएं, उज्ज्वला योजना में 50 घरों को रसोई गैस कनेक्शन

रायपुर, 11 मई 2017 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के तहत आज नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले के ग्राम बोरावंड हेलीकॉप्टर से अचानक पहुंचे, जहां चौपाल लगाने के पहले वे स्थानीय आंगनबाड़ी केन्द्र को देखने और वहां के बच्चों से मिलने पहुंच गए। मुख्यमंत्री ने एक नन्हें बच्चे से उसका नाम पूछा तो उसने बताया -मेरा नाम रमन है। इस पर मुख्यमंत्री ने खुशी जतायी और कहा - चलो अच्छा है, यहां भी एक ‘रमन’ है। उन्होंने ‘रमन’ सहित आंगनबाड़ी के सभी बच्चों को आशीर्वाद दिया। 

डॉ. सिंह ने देखा कि कुछ बच्चे आंगनबाड़ी केन्द्र की दीवार पर ड्राइंग बना रहे हैं। इस पर वे स्वयं उन बच्चों के साथ दीवार पर ड्राइंग बनाने लगे। मुख्यमंत्री कुछ देर आंगनबाड़ी केन्द्र में बैठे। उन्होंने बच्चों से बाल सुलभ कुछ हंसी-मजाक भी किया और उनकी खेल-खेल में शिक्षा की गतिविधियों के बारे में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से जानकारी ली। डॉ. सिंह ने आंगनबाड़ी केन्द्र में बच्चों और स्थानीय महिलाओं के टीकाकरण, उनके लिए पोषण आहार वितरण आदि के बारे में भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता से ब्यौरा लिया। डॉ. सिंह वहां आंगनबाड़ी केन्द्र से एक स्थानीय ग्रामीण श्री बुकुलराम मण्डावी के घर चले गए। उन्होंने घर में महुंआ टोरी तोड़ती बुजुर्ग महिला श्रीमती संुदनी बाई से बातचीत की। श्री बुकुलराम ने वर्ष 2013 में इंदिरा आवास योजना के तहत मिली सहायता से यह मकान बनवाया था। उनके परिवार ने मुख्यमंत्री को बताया कि घर में बिजली का कनेक्शन नहीं है, इस पर डॉ. सिंह ने अधिकारियों को बुकुलराम के घर बिजली कनेक्शन दिलाने के निर्देश दिए। श्री बुकुलराम के पुत्र रतन ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके आधार कार्ड में उम्र गलत छप गई है। इस पर डॉ. सिंह ने कलेक्टर से कहा कि गांव में शिविर लगाकर आधार कार्डों की जांच की जाए और अगर उनमें प्रिटिंग से संबंधित इस प्रकार की गलतियां मिलने पर सुधरवाया जाए। उन्होंने श्री मुकुलराम के घर में रखे तीर-धनुष को भी चलाकर देखा।   

डॉ. रमन सिंह ने आम के पेड़ के नीचे ग्राम बोरावंड की चौपाल में ग्रामीणों से बातचीत करते हुए कई घोषणाएं की। उन्होंने कहा ग्राम बोरावंड से भेतपाल तक आठ किलोमीटर सड़क बनायी जाएगी। सबसे पहले गिट्टी और मुरूम की सड़क अनेगी, उसके पक्की सड़क बनवाएंगे। उन्होंने इस मार्ग पर बोदरा नाले पर पुल निर्माण की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने बोरावण्ड के 50 परिवारों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन, डबल बर्नर चूल्हा और सिलेण्डर देने की भी घोषणा की। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री को बताया कि गांव में बिजली तो आ गई है, लेकिन कनेक्शन नहीं दिया गया है। इस पर डॉ. सिंह ने सभी घरों में जल्द विद्युत कनेक्शन और एल.ई.डी. बल्ब दिलाने का भी ऐलान किया। उन्होंने गांव में देवगुड़ी निर्माण के लिए एक लाख रूपए मंजूर करने और स्थानीय जय कालीमाता स्वसहायता समूह को एक हारमोनियम और ढोलक दिलाने का भी आश्वासन दिया। 

हिन्दी