खेती

मेहनतकश किसानों को ब्याजमुक्त ऋणों की सुविधा

ब्याज मुक्त ऋण का उपयोग करने के बाद किसानों ने वापस जमा कर दी 71 प्रतिशत राशि : मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक में दी गई जानकारी

किसानों ने समितियों से लिया था 4474 करोड़ रूपए का ब्याज मुक्त कर्ज

वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से खेती किसानी समीक्षा

मानसून आने ही वाला है, सरकार खेती के लिए सतर्क है, अपर मुख्य सचिव श्री अजय सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए जिला कलेक्टरों एवं कृषि विभाग के अधिकारियों की ली बैठक
खाद-बीज के भण्डारण एवं उठाव के दिए निर्देश

एक हजार करोड़ रूपए से बनेगा राष्ट्रीय संस्थान

जैविक बाधाओं को दूर करने छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय संस्थान

छत्तीसगढ़ में खेती किसानी से संबंधित रोगों, कीड़े-मकोड़ों सहित अन्य जैविक बाधाओं से निपटने एक हजार रूपए करोड़ रूपए की लागत वाला राष्ट्रीय संस्थान स्थापित किया जाएगा। इस संस्थान की स्थापना के लिए केन्द्र सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ को सैध्दातिक स्वीकृति भी दे दी गयी है। कृषि संकाय पर यह संस्थान छत्तीसगढ़ का पहला राष्ट्रीय स्तर का संस्थान होगा। यह संस्थान भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा स्थापित किया जाएगा।