किसानी

एक हजार करोड़ रूपए से बनेगा राष्ट्रीय संस्थान

जैविक बाधाओं को दूर करने छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय संस्थान

छत्तीसगढ़ में खेती किसानी से संबंधित रोगों, कीड़े-मकोड़ों सहित अन्य जैविक बाधाओं से निपटने एक हजार रूपए करोड़ रूपए की लागत वाला राष्ट्रीय संस्थान स्थापित किया जाएगा। इस संस्थान की स्थापना के लिए केन्द्र सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ को सैध्दातिक स्वीकृति भी दे दी गयी है। कृषि संकाय पर यह संस्थान छत्तीसगढ़ का पहला राष्ट्रीय स्तर का संस्थान होगा। यह संस्थान भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा स्थापित किया जाएगा।