अपर इंद्रावती प्रोजेक्ट से छत्तीसगढ़ को पानी

अपर इंद्रावती प्रोजेक्ट से छत्तीसगढ़ को भी मिले एक टी.एम.सी. पानी : श्री चन्द्रशेखर साहू
उड़ीसा के मुख्यमंत्री से मिल कर कृषि मंत्री ने की मांग
रायपुर, 04 जुलाई 2009 - छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री श्री चन्द्रशेखर साहू ने आज उड़ीसा की राजधानी भुवनेश्वर में केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री शरद पवार की उपस्थिति में वहां के मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक से मिल कर अपर इंद्रावती सिंचाई परियोजना से एक टी.एम.सी. पानी छत्तीसगढ़ को देने की मांग की है। श्री नवीन पटनायक ने उन्हें इस मामले में दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों की बैठक जल्द आयोजित करने का आश्वासन दिया है, ताकि इस मामले में दोनों प्रदेशों के हित में उचित निर्णय लिया जा सके।

श्री साहू ने मुलाकात के दौरान छत्तीसगढ़ में संचालित की जा रही जन-कल्याणकारी और विकास योजनाओं की जानकारी भी श्री पटनायक को दी। उड़ीसा के मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ में डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में चल रही योजनाओं की जमकर प्रशंसा की। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री श्री चन्द्रशेखर साहू केन्द्रीय कृषि मंत्रालय द्वारा आयोजित सभी राज्यों के मछली पालन मंत्रियों की दो दिवसीय कार्यशाला में शामिल होने उड़ीसा की राजधानी भुवनेश्वर गए हुए हैं।

कृषि मंत्री श्री चन्द्रशेखर साहू ने बताया कि उड़ीसा के भवानीपट्नम और नवरंगपुर जिलों में स्थित अपर इंद्रावती प्रोजेक्ट से छत्तीसगढ़ को एक टी.एम.सी. पानी मिलने पर छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती रायपुर जिले के देवभोग क्षेत्र में 35 गांवों के किसानों को अपनी फसलों के लिए पांच हजार एकड़ से अधिक रकबे में सिंचाई की सुविधा मिल सकेगी। श्री साहू ने बताया कि अपर इंद्रावती प्रोजेक्ट से यह पानी तेल नदी के माध्यम से छत्तीसगढ़ लाया जा सकता है। इसके लिए उड़ीसा राज्य शासन द्वारा जरूरी आधारभूत संरचनाओं का निर्माण भी करा लिया है। साथ ही छत्तीसगढ़ में भी इस प्रोजेक्ट से सिंचाई का पानी लेने के लिए नहर तंत्र स्थापित है। उन्होंने कहा कि उड़ीसा सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ को इस परियोजना के तहत एक टी.एम.सी. पानी देने पर रायपुर जिले के आदिवासी बाहुल्य देवभोग विकासखंड में खेती किसानी के साथ-साथ अन्य विकास योजनाएं संचालित करने में अच्छी मदद मिलेगी।

हिन्दी