संभाग स्तरीय कार्यशाला आयोजन सूची

छत्‍तीसगढ़ रायपुर, 07 जुलाई 2009 - राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना की संभागीय स्तर पर दो दिवसीय कार्यशाला 9 और 10 जुलाई को राज्य प्रशिक्षण संस्थान निमोरा द्वारा आयोजित की जा रही है।

बिलासपुर और सरगुजा संभाग स्तरीय कार्यशाला 9 जुलाई को प्रात: 10 बजे से बिलासपुर स्थित व्यापार बिहार के त्रिवेणी सभागार में आयोजित होगी।

रायपुर और बस्तर संभाग स्तरीय कार्यशाला 10 जुलाई को प्रात:10 बजे से राजधानी रायपुर के निकट स्थित राज्य प्रशिक्षण संस्थान, निमोरा में आयोजित की जा रही है।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के आठ मण्डल कार्यालयों का पुनर्गठन

छत्‍तीसगढ़ रायपुर, 07 जुलाई 2009 - सरकारी काम-काज में सुविधा और प्रशासनिक कसावट की दृष्टि से छत्तीसगढ़ में राज्य शासन द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के आठ मण्डल कार्यालयों का पुनर्गठन करते हुए कार्यक्षेत्र भी निर्धारित कर दिया गया है।

पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग ने यहां मंत्रालय से इस आशय का आदेश जारी कर दिया है। छत्तीसगढ़ ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि जिला मुख्यालय स्थित परियोजना क्रियान्वयन इकाईयां, जिला परियोजना क्रियान्वयन इकाई के रूप में कार्य करेगी और संबंधित कार्यपालन अभियंता जिला परियोजना क्रियान्वयन इकाई के सदस्य सचिव होंगे।

अम्बिकापुर के नजदीक ग्राम परसा में चावल वितरण

सरगुजा में करेंगे चावल उत्सव के साथ एक रूपए और दो रूपए किलो में चावल वितरण की शुरूआत
गरीबों को नमक मिलेगा मुफ्त

छत्तीसगढ़ रायपुर, 07 जुलाई 2009 - छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह कल 08 जुलाई को आदिवासी बहुल सरगुजा राजस्व संभाग के मुख्यालय अम्बिकापुर के नजदीक ग्राम परसा में दोपहर 12 बजे आयोजित चावल उत्सव में राज्य के 37 लाख गरीब परिवारों के लिए सिर्फ एक रूपए और दो रूपए किलो में चावल वितरण की महत्वपूर्ण योजना का शुभारंभ करेंगे।

मुख्यमंत्री सरगुजा प्रवास पर

छत्‍तीसगढ़ रायपुर, 07 जुलाई 2009 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह कल बुधवार, 8 जुलाई को राज्य के आदिवासी बहुल सरगुजा जिले का दौरा करेंगे।

निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री सवेरे 10.15 बजे रायपुर से शासकीय विमान द्वारा अम्बिकापुर के लिए रवाना होंगे और वहां पहुंचकर 11.10 बजे शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज परिसर में आयोजित समारोह में सरगुजा विश्वविद्यालय के लिए ग्राम भकुरा में 220 एकड़ में बनने वाले भवन परिसर का भूमि पूजन कर शिलान्यास करेंगे।

पूनों आई है चँदनियाँ में रात नहाई

पूनो आई है ।
चंदा दुल्हन सा लागे,
तारों की चूनर ओढ़े
लगे गगन न चाँदी की,
गागर लुढ़काई ॥ पूनो ..............

तार खिंचे चमकीले सुन्दर,
धरती अंबर जोड़े,
पवन नशीले मतवारे ने
वीणा है बजाई ॥ पूनो ..............

ठहरे पानी की चादर पर,
अंबर विहंस उतर आया ॥
चतुर चितेरे ने चंदा की,
चिंतवन है चुराई ॥ पूनो ..............

ऐसे मीठे मधुमौसम में
मधुबन महक गया
लगे कन्हैया ने कूंजों से
टेर लगाई ॥ पूनो ..............

हौले हौले आई रानी ॠतु की

बनके बगिया में बसंती बहार
कैसे संभालू मोरा जियरा ।

झर झर झर पत्ते झरते
पर्ण स्वर्ण से सुन्दर लगते,
कों पल झाँकत आय

धरती पीली चूनर औढ़े
नभ से जैसे के झर बरसे,
वसुधा वधु सी लजाए

रंग बिरंगे फूल खिले हैं
भंवरों के गुंजन भाये

मदन बाण से वसुधा घायल,
मंद समीर की रूनझुन पायल
नदियां छलकत जाए ॥

एक बार ही महक का मौसम: गीत

अंतस तक गहराता है ।
पल पल में तब जीवन के,
सुधासिंधु लहराता है ॥

बूँद एक ही पीकर लगता,
होश कभी न आयेगा ।
पर्वत मरघट कोई आये,
ऐसी एड़ लगे जीवन को,
सब समतल हो जाता है ॥

बगिया बंजर रवि शशि में,
ताल तलैया तारों में ।
रमती है झंकार एक ही
दिखती झलक बहारों में ।
पर जब छिड़ता राग एक
मन वीणा बन जाता है ।

नदिया में कुछ घुटनों तक ही,
कुछ छिंकते मझधारों में,
कुछ तट तक भी पहँच सके हैं
कुछ ठिठके किनारों में ।
पर जो बूड़ा बीच धार में
वही पार उतर जाता है ।

महक मेरे गीत में

फूलों की भीनी खुशबू ने,
भरदी महक मेरे गीत में ।
कोमल के मीठे गान में,
ढाला इन्हें संगीत में ।

नदियां की कलकल चुपके से आके,
शब्द बनी है मेरे गीत में ।
सागर में उठते ज्वार ने,
उमंग भरी है इनके सांस में ।

चंदा की चाँदनी का रूप समाया,
इनके गीत में ।
पवन ने झूले में झूलके मानों,
मस्ती भरी है मेरे गीत में ।

बने जो गीत प्यार के ,
छलके मधु गुलाब से ।
भारी फूलों की डाल से,
भाव भरे हैं अनुराग के ।

तूफान में जलता एक दिया - माइकल जैक्सन

जैको अमर हो गए। जिन्दगी के कितने रंग है बताना ही मुश्किल है पर शमा को तो हर रंग में जलना ही पड़ता है सहर होने तक। किसी-किसी की जिंदगी में हम आश्चर्यजनक परिस्थितियाँ, कभी स्वर्ग के नजारे कभी अथाह पीड़ा का लहराता सागर उमड़ता देखते हैं। आज माइकल जैक्‍सन का अंतिम संस्‍कार सभी को बहुत रूला रहा है।

माइकल जैक्सन का जीवन सफलता की बुलंदियों और विफलताओं, विवादों की कँटीली झाड़ी के समान था। माइकल जैक्सन बचपन से पिता के कड़े बर्ताव से उसका मन, अनेक कुंठाओं की जन्म स्थली बन गया जिससे माइकल जैक्सन कभी उबर नहीं पाया पर तमाम तूफानों के बावजूद नृत्य संगीत के रूप में सरस्वती सदा उसकी अंगुली थामे रही।

राष्ट्रीय बागवानी मिशन छत्तीसगढ़ की उद्यानिकी योजना

2009 वर्ष में 82.24 करोड़ रूपए की कार्ययोजना
छत्तीसगढ़ रायपुर, 07 जुलाई 2009 - छत्तीसगढ़ में इस वर्ष राष्ट्रीय उद्यानिकी मिशन के अन्तर्गत राज्य शासन द्वारा उद्यानिकी फसलों की बडे पैमाने पर खेती के लिए किसानों को 82 करोड़ 24 लाख रूपए की सहायता दी जायेगी।