चीन से छत्तीसगढ़ में 16000 करोड़ रूपए पूंजी निवेश

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ के व्यापार मिशन को चीन में बड़ी सफलता : चीनी कम्पनियों ने छत्तीसगढ़ में लगभग 16000 करोड़ रूपए के पूंजी निवेश के लिए किया करार

सौर ऊर्जा, इलेक्ट्रॉनिक्स, सीमेंट, सिक्युरिटी कैमरा और इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण पर होगा निवेश

कब होगी रणदीप हुड्डा की शादी

कौन कौन हैं जिन्हे रणदीप हुड्डा की शादी का खास ख्याल है ?

आखिर क्या खास है  रणदीप हुड्डा की शादी में जो अब मीडिया और गॉसिप में इसके चर्चे हो रहें हैं। 

बहुत मुमकिन है उनकी चाहने वालीओं में रणदीप हुड्डा की शादी के हलचल और हालचाल की होड़ लगी हो। 

रणदीप हुड्डा एक खास कड़क व्यक्तित्व के नौजवान कुंवारे है जिनसे शादी तो छोडिए मिलाने के लिए सुंदरियाँ मरी जाती हैं। 

रणदीप हुड्डा की शादी बॉलीवुड का आज कल बेहद रंगीन गॉसिप है। 

रणदीप हुड्‌डा की खातिर लड़की देख रहे हैं घरवाले

कृषि मंत्री और खाद्य मंत्री भी शामिल होंगे चावल उत्सव में

रायपुर, 07 जुलाई 2009 - कृषि मंत्री श्री चन्द्रशेखर साहू कल आठ जुलाई को रायपुर जिले के विकासखण्ड अभनपुर स्थित ग्राम निसदा में दोपहर 12 बजे और महासमुंद जिले के मुख्यालय महासमुंद में दोपहर 2 बजे और ग्राम जलकी में शाम 4 बजे 'चावल उत्सव' में शामिल होकर शाम को ही रायपुर लौट आएंगे।

खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री पुन्नूलाल मोहले भी कल आठ जुलाई को चावल उत्सव के कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

मूणत ने बिलासपुर में निरीक्षण किया

नगरीय प्रशासन मंत्री श्री मूणत ने बिलासपुर में विकास कार्यों का निरीक्षण किया

रायपुर, 07 जुलाई 2009 - नगरीय प्रशासन मंत्री श्री राजेश मूणत ने आज बिलासपुर नगर में चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण किया और निर्माण कार्यों में लापरवाही बरतने वाले ठेकेदारों पर नाराजगी व्यक्त की।

निरीक्षण के दौरान श्री मूणत ने बिलासपुर के कोनी में चल रहे तालाब निर्माण कार्य और इसका सुनियोजित ढंग से सौंदर्यीकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सोनमणि बोरा ने उन्हें कोनी तालाब के सौंदर्यीकरण के लिये बनाई गई कार्ययोजना की जानकारी दी।

अशोक बजाज अभनपुर में चावल उत्सव' करेंगे

रायपुर, 07 जुलाई 2009 - जिला पंचायत रायपुर के अध्यक्ष श्री अशोक बजाज कल आठ जुलाई को जिले के विकासखंड मुख्यालय अभनपुर में दोपहर 12 बजे, ग्राम हसदा में एक बजे और नवापारा-राजिम में दोपहर दो बजे गरीबों के लिए मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना के तहत 'चावल उत्सव' का शुभारंभ करेंगे।

श्री बजाज ने आज यहां बताया कि रायपुर जिले में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत एक हजार एक हजार 191 उचित मूल्य दुकानों में कल आठ जुलाई को एक साथ चावल उत्सव मनाया जाएगा।

वन मंत्री पखांजूर-अंतागढ़ में करेंगे 'चावल उत्सव' की शुरूआत

छत्‍तीसगढ़ रायपुर, 07 जुलाई 2009 - वन मंत्री श्री विक्रम उसेण्डी चावल उत्सव के दौरान कल 08 जुलाई को उत्तर बस्तर (कांकेर) जिले के पखांजूर और अंतागढ़ में सम्पूर्ण जिले के एक लाख से अधिक गरीबों के लिए मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना के संशोधित स्वरूप का शुभारंभ करेंगे।

इसके अन्तर्गत अन्त्योदय श्रेणी के 21 हजार 222 परिवारों को एक रूपए किलो में और शेष गरीब परिवारों को दो रूपए किलो में हर महीने 35 किलो चावल दिया जाएगा। उन्हें हर महीने दो किलो आयोडीन नमक मुफ्त मिलेगा।

गांव में चैत्र नवरात्री और ज्योति कलश की स्थापना

नवरात्रि पर होंगे जसगीत : ईष्ट देवी नातिन धोबिन दाई मंदिर बोरियाखुर्द में ज्योति कलश की स्थापना 8 अप्रैल शाम 4 बजे होगी। पूजा समारोह की तैयारी को लेकर शहर जिला धोबी समाज की बैठक हुई। इसमें कार्याे के लिए सदस्यों को जिम्मेदारी बांटी गई। जसगान की जिम्मेदारी ग्राम धूसेरा, धरमपुरा, माना बस्ती उरकुरा भनपुरी आदि के समाजजनों की दी गई। बैठक में समाज के प्रदेशाध्यक्ष सूरज निर्मलकर, चंद्रहास निर्मलकर, पवन निर्मलकर आदि उपस्थित थे। 

हिंदू नववर्ष पर बाइक रैली

रायपुर। हिंदू नववर्ष आयोजन समिति व शिवा मित्र द्वारा चैत्र प्रतिपदा पर बाइक रैली निकाली गई। भारत माता की जय-जयकार करते हुए युवाओं ने शहर का भ्रमण किया और नववर्ष की शुभकामनाएं दीं।

रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष व भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता संजय र्शीवास्तव ने भगवा झंडा दिखाकर रैली को रवाना किया।

इसके बाद बड़ी संख्या में बाइक में सवार युवा भारत माता की जय के नारे लगाते हुए शहर में निकले। बाइक रैली में राजा रज्जाक, दीनू नेताम, कमलेश, अंकित त्रिवेदी, रीतेश सहारे सहित आयोजन समिति के सदस्य मौजूद थे।

गूंजने लगे माता के जयकारे

चैत्र नवरात्र का सन् २०१६ में खास मुहूर्त रहा अभिजीत और मत के जोत के साथ जयकारों की गूँज सर्वत्र व्याप्त हो गई। 

देवी भवानी के प्रति श्रद्धा अपने आप जयकारे की गूँज साथ लेकर आती है। 

गर्मी की दुर्गा देवी पूजा में शारदीय नवरात्री की भांति ही माता के जयकारे गूंजने लगते हैं। 

जयकारा मत भक्तों के मन की श्रद्धा की आवाज होती है।


नवरात्रि में व्रत, उपवास, पूजा अर्चना और आरती जयकारा एक बहुत सूंदर पवित्र वातावरण धरती पर निर्मित करता है। 

माता के जयकारे गूंजने लगे और चैत्र नवरात्रि के पर्व का आगाज़ हो गया।