राजधानी में आज स्वामी विवेकानन्द स्मृति व्याख्यान

महान दार्शनिक स्वामी विवेकानन्द की जयंती की पूर्व संध्या पर राज्य शासन के संस्कृति विभाग द्वारा कल 11 जनवरी 2008 को यहां उनकी स्मृति में व्याख्यान का आयोजन किया जा रहा है। यह कार्यक्रम स्थानीय कलेक्टोरेट के नजदीक टॉउन हाल में शाम 5.30 बजे प्रारंभ होगा। मुख्यमंत्री डॉ.

डी.पी. विप्र महाविद्यालय बिलासपुर के सभाकक्ष का लोकार्पण

प्रदेश में शिक्षा का बेहतर वातावरण

स्वास्थ्य एवं नगरीय प्रशासन मंत्री श्री अमर अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में शिक्षा का बेहतर वातावरण है। उन्होंने कहा कि पिछले चार सालों में राज्य में शिक्षा के आधारभूत संरचना में वृध्दि हुई है। श्री अग्रवाल आज बिलासपुर के डी.पी. विप्र स्नातकोत्तर महाविद्यालय के नवनिर्मित सभाकक्ष के लोकार्पण अवसर पर आयोजित समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। महाविद्यालय के इस सभाकक्ष का निर्माण 24 लाख रूपये की लागत से हुआ है।

छत्तीसगढ़ में कुपोषण के खिलाफ चलेगा विशेष अभियान

अगले पांच वर्ष में कुपोषण की दर 52 से घटाकर 26 प्रतिशत पर लाने का लक्ष्य
परियोजना क्रियान्वयन के पूर्व दो दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला प्रारंभ

सरपंच, कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस

राशन कार्ड वितरण सहित शासकीय योजनाओं में लापरवाही की शिकायत सरपंच और तीन कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चाम्पा जिले में राशन कार्ड वितरण में उदासीनता बरतने और हितग्राही मूलक शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही की शिकायतों पर ग्राम पंचायत महंत की सरपंच श्रीमती इन्द्राणी बाई और सचिव श्री विजय कुमार सिंह को पद से हटाने के लिए कारण बताओ नोटिस दिया जाएगा।

मास्टर ट्रेनर्स सभी स्कूलों में इको क्लबों का निरीक्षण करेंगे

छत्तीसगढ़ राज्य पर्यावरण मंडल द्वारा नेशनल ग्रीन कोर कार्यक्रम के तहत विभिन्न पर्यावरणीय विषयों पर यहां आयोजित राज्य स्तरीय तीन दिवसीय मास्टर ट्रेनर्स प्रशिक्षण आज समाप्त हो गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में पर्यावरण विशेषज्ञों द्वारा विभिन्न पर्यावरणीय विषयों पर मास्टर ट्रेनर्स को प्रशिक्षण दिया गया। छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल के सदस्य सचिव श्री के.सुब्रमणियम ने समापन अवसर पर मास्टर ट्रेनर्स को प्रमाण-पत्र प्रदान किया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रदेश के सभी जिलों से 75 मास्टर ट्रेनर्स ने  भाग लिया।

छत्तीसगढ़ गौरव ग्रामों में बुनियादी सुविधाओं का विस्तार

बिलासपुर, कांकेर, कोरबा और महासमुन्द जिला के गौरव ग्रामों में 162 लाख रूपये के कार्य मंजूर
रायपुर 11 जनवरी 2008 - छत्तीसगढ़ के महानविभूतियों एवं महापुरूषों की जन्म भूमि एवं कर्म स्थली ग्रामों को आदर्श गांव के रूप में विकसित करने के उद्ेश्य से छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा ''गौरव ग्राम'' योजना संचालित की जा रही है। इस योजना के तहत राज्य के बिलासपुर, कांकेर, कोरबा और महासमुन्द जिला को मिलाकर 162 लाख रूपये के निर्माण एवं विकास कार्य स्वीकृत किए गए हैं।