मुख्यमंत्री ने मकर संक्रांति पर जनता को शुभकामनाएं दी

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मकर संक्रांति के अवसर पर जनता को अपनी हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। डॉ. सिंह ने आज यहां जारी अपने संदेश में कहा है कि ऋतु-परिवर्तन का पैगाम लेकर आने वाला हमारे देश का यह परम्परागत त्यौहार तिल और गुड़ के माध्यम से मनुष्य को अपने जीवन और व्यवहार में मिठास घोलने की भी प्रेरणा देता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि तीज-त्यौहारों से परिपूर्ण हमारी भारतीय संस्कृति में मकर संक्रांति का भी अपना महत्व है। उन्होंने इस अवसर पर सभी लोगों के लिए सुख-समृध्दि की कामना की है।

अगुस्ता से भी रखी जाएगी राशन दुकानों पर नजर

सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों का अब निरीक्षण 'अगुस्ता' से भी होगा। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेसिंग से प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टरों से बात की। उन्होंने कहा कि वे विभिन्न जिलों में भ्रमण के दौरान हेलीकाप्टर 'अगुस्ता' से किसी भी गांव में अचानक उतर कर वहां की राशन दुकान का भी आकस्मिक निरीक्षण करेंगे।

गरीबों के चावल की कालाबाजारी रोकने कठोर कार्रवाई

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए सभी कलेक्टरों से मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना की तैयारियों की जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिए। डॉ. रमन सिंह ने बस्तर को छोड़कर सभी जिलों के कलेक्टरों से अलग-अलग संवाद के जरिए उन्हें जरूरी दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गरीबों के चावल की कालाबाजारी रोकने के लिए अत्यावश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कठोर कार्रवाई की जाए और कालाबाजारी में लिप्त वाहनों को नियमानुसार तत्काल राजसात किया जाए। डॉ. सिंह ने विशेष रूप से निर्देश दिए कि बी.पी.एल.

आधुनिकता में भी मूल संस्कृति को बनाए रखें

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने स्थानीय शहीद स्मारक भवन में आयोजित ''सिंधियत जो दर्शन'' कार्यक्रम में सिंधी समाज की नई पीढ़ी के लिए सामाजिक मूल्यों और परम्पराओं की  शिक्षा पर विशेष बल दिया । उन्होंने कहा कि आधुनिकता के प्रभाव में आज सभी समाजों की मूल संस्कृति प्रदूषित होती जा रही है। नई पीढ़ी के लोग अपनी परम्परा, संस्कार और सामाजिक गौरव को भूलते जा रहे हैं। ऐसे में अपनी संस्कृति को बनाए रखना हम सबका सामाजिक दायित्व है ।

गोपीनाथ मुण्डे करेंगे खाद्यान्न सहायता का शुभारंभ

मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना के विस्तारित स्वरूप के तहत महासमुंद में गरीब परिवारों को तीन रूपए प्रति किलो की दर पर चावल और दीनदयाल ग्रामीण आवास योजना में गरीब परिवारों को आवासीय पट्टा वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ 16 जनवरी को महाराष्ट्र के पूर्व उप मुख्यमंत्री श्री गोपीनाथ मुण्डे करेंगे। योजना का शुभारंभ स्थानीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के शाला मैदान में दोपहर एक बजे शुरू होगा। कलेक्टर एस. के. जायसवाल ने आज दोपहर अधिकारियों की एक बैठक लेकर तैयारियों की समीक्षा की।

लक्ष्य के साथ आगे बढ़ने से मंजिल अवश्य मिलती है

प्रदेश के उच्च शिक्षा विज्ञान एवं तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी ने कहा है कि अगर विद्यार्थी एक निश्चित लक्ष्य और पूरे समर्पण के साथ आगे बढ़ते हैं तो उन्हें अपनी मंजिल पाने से कोई नहीं रोक सकता। श्री बांधी ने इस आशय उद्गार कल सोमवार को अम्बिकापुर के होलीक्रॉस महिला महाविद्यालय के वार्षिक उत्सव में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने इस अवसर पर छात्राओं को शैक्षणिक गतिविधियों के साथ-साथ खेलकूद, सामाजिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में भी सक्रिय रूप से भाग लेने का आह्वान किया है। उन्होंने कार्यक्रम में महाविद्यालय की बालिकाओं एवं अध्यापकों को

ई-प्रोक्योरमेंट की कार्यशाला 17 जनवरी से

राज्य शासन द्वारा शुरू की गई ई-प्रोक्योरमेंट परियोजना के अन्तर्गत शामिल पायलट विभागों के अधिकारियों और ठेकेदारों की कार्यशाला 17 एवं 18 जनवरी को सवेरे 11 बजे से जल संसाधन विभाग के सिविल लाईन स्थित कार्यालय सिंहावा भवन में आयोजित की गयी है। कार्यशाला में छत्तीसगढ़ इन्फोटेक एवं बायोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स) एवं विप्रो के अधिकारियों द्वारा ई-प्रोक्योमेंट की पूरी प्रक्रिया की जानकारी देंगे।